हजारों कर्मचारियों को मनानी पड़ेगी काली दीवाली

Saturday, October 15, 2016

भोपाल। मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांतीय अध्यक्ष अरूण द्विवेदी एवं प्रांतीय महामंत्री लक्ष्मीनारायण शर्मा ने बताया कि प्रदेश में हजारों कर्मचारियों को वेतन देने के लिये सरकारी खजाने में पैसा नही है जिस कारण से तीन से चार माह से कर्मचारियों को वेतन नही मिल रहा है। सरकार ने भले ही कर्मचारियों को धनतेरस पर वेतन देने का फरमान जारी कर दिया है उसके उपरांत भी स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा मनरेगा एवं अन्य विभागों के कर्मचारियों को  काली दीवाली मनाने के लिये मजबूर होना पडेगा।  

अरूण द्विवेदी एवं लक्ष्मीनारायण शर्मा ने बताया कि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों के अधीन कार्यरत दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को मजदूरी मद से वेतन का भुगतान किया जाता है परन्तु वित्त विभाग ने मजदूरी मद में बजट देना बंद कर दिया है। साथ ही नियमित पदों के विरूद्ध पदस्थ संविदा पैरामेडिकल एवं मलेरिया कर्मचारियों को भी तीन माह से अधिक समय से वेतन नही मिल रहा है। इसी प्रकार चिकित्सा शिक्षा विभाग में आटोनामस में कार्यरत स्टाफ नर्स एवं पैरामेडिकल स्टाफ को तीन माह से बजट नही होने के कारण वेतन नही दिया गया है। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत मनरेगा के हजारो संविदा कर्मचारियों एवं शिक्षा विभाग शिक्षक को भी तीन माह से वेतन नही मिल पा रहा है। 

वेतन नही मिलने से कर्मचारियों को आर्थिक संकट का सामना करना पड रहा है तथा अनेक कर्मचारी अपने बच्चों का इलाज नही करा पा रहे है साथ ही उनके बच्चों को भी स्कूलों से निकाल दिया गया है। तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांतीय अध्यक्ष अरूण द्विवेदी एवं महामंत्री लक्ष्मीनारायण शर्मा ने कर्मचारियों को दीपावली के पूर्व वेतन देने की मांग की है। उन्होने कहा कि यदि कर्मचारियों को दीपावली के पूर्व वेतन नही दिया जाता है तो कर्मचारी काली दीवाली मनाने को बाध्य होंगे। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week