पढ़िए रंगीला गर्ल उर्मिला मातोंडकर से क्या चाहते थे रामू | BOLLYWOOD NEWS

Sunday, February 4, 2018

बॉलीवुड की RANGILA GIRL URMILA MATONDKAR का चार फरवरी यानी आज जन्मदिन है. उर्मिला आज 44 साल की हो गयीं. उर्मिला भले ही आज बॉलीवुड से दूर हों, लेकिन 90 के दशक में युवा हुई पीढ़ी की जेहन में वे आज भी हैं. उर्मिला मातोंडकर 2006 में खुद से उम्र में नौ साल छोटे मॉडल व बिजनेसमैन  मोहसीन अख्तर मीर से शादी कर सेटल हो गयीं हैं और हाल में इंस्ट्राग्राम पर उन्होंने अपने पति के साथ अपनी तस्वीरें शेयर की थी, जिससे दोनों के अच्छे रिश्तों का संकेत मिलता है. लेकिन, बॉलीवुड में अपने दो दशक से अधिक लंबे कैरियर में उर्मिला मातोंडकर सबसे ज्यादा चर्चा में फिल्मकार रामगोपाल वर्मा यानी रामू की फिल्मों को लेकर रहीं. रामगोपाल वर्मा ने अपनी चर्चित आत्मकथा गन एंड थाईस : द स्टोरी ऑफ माई लाइफ में श्रीदेवी के बाद सबसे लंबा अंश उर्मिला मातोंडकर पर ही लिखा. यह किताब उनकी अभिनेत्रियों व उनके प्रति उनके आकर्षण पर केंद्रित है. यह भी संयोग है कि यह किताब भी 2006 में ही आयी, जिस साल उर्मिला ने शादी की.

रामगोपाल वर्मा की यह किताब भी काफी विवाद में रही, जिसको लिखने की प्रेरणा उन्होंने दीवार फिल्म के अमिताभ बच्चन और हिम्मतवाला फिल्म की श्रीदेवी को बताया था. फिल्म दीवार में अमिताभ बच्चन की गन और हिम्मतवाला में श्रीदेवी के ग्लैमरस अंदाज ने उन्हें किताब लिखने को प्रेरित किया. रामगोपाल वर्मा के मुताबिक फिल्मों में आने से पहले उन पर सबसे ज्यादा प्रभाव श्रीदेवी का रहा और फिल्म इंडस्ट्री में आने के बाद उर्मिला मातोंडकर का.

रामगोपाल वर्मा ने एक बार कहा था कि उन्होंने फिल्म रंगीला इसलिए बनायी, ताकि वे इसके माध्यम से उर्मिला की खूबसूरती को दिखाना चाहते थे. रामू ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उन्होंने फिल्म रंगीला में उर्मिला की सुंदरता को कैद कर सेक्स सिंबल का एक बेंचमार्क बनाने की कोशिश की. उन्होंने कहा कि कैमरे पर मैंने इससेे पहले इतनी सिनेमेटिक ऊंचाई नहीं पायी थी. वर्मा के अनुसार, वे उर्मिला को हमेशा एक सामान्य शख्स से अलग और लार्जर देन लाइफ के रूप में देखना चाहते रहे हैं. रामू के अनुसार, उर्मिला एक प्यारी और सादगी भरी शख्स हैं.

क एक्ट्रेस के तौर पर उर्मिला ने सन्नी देओल और डिंपल कपाड़िया की फिल्म नरसिम्हा में सेकेंड लीड रोल के साथ शुरुआत की थी, लेकिन उन्हें पहचान रंगीला फिल्म से मिली और वे रातोंरात बड़ी स्टार बन गयीं. यह 90 के दशक में उस तरह चर्चा में आयी, जिस तरह 70 के दशक में फिल्म बॉबी आयी थी. बाद में रामू ने उर्मिला को लेकर फिल्म सत्या बनायी, जिसमें उर्मिला का अभिनय निखर कर सामने आया और उन्हें ग्लैमरस से एक गंभीर अभिनेत्री की पहचान मिली. 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week