भारत की 1st महिला जासूस गिरफ्तार, कॉल डिटेल्स चुराने का आरोप | CRIME NEWS

Saturday, February 3, 2018

ठाणे। भारत की पहली महिला जासूस के नाम से प्रसिद्ध रजनी पंडित को ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उन पर अपने क्लाइंट के लिए अवैध माध्यम से कॉल डिटेल रिकॉर्ड्स (सीडीआर) प्राप्त करने के आरोप है। अवैध रूप से सोर्सिंग और सीडीआर बेचने के चलते पुलिस ने गुरुवार को जासूसों के गिरोह का भंडाफोड़ कर चार लोगों को गिरफ्तार किया था, जिसमें रजनी भी शामिल हैं। रजनी (54) पूर्व पुलिस अधिकारी की बेटी हैं। पुलिस ने समरेश झा नाम के एक जासूस को गिरफ्तार करने के बाद उन्हें उनके घर से गिरफ्तार किया। समरेश ने पुलिस को बताया था कि वह इन कॉल डिटेल्स को रजनी के कहेनुसार सोर्स करता था और इसे मोटी कीमत में बेचते थे। 

दो अन्य जासूस भी अरेस्ट 
एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस बात के पुख्ता सबूत हैं कि रजनी ने करीब 5 लोगों के सीडीआर मांगे और खरीदे थे। ठाणे पुलिस प्रमुख परम बीर सिंह ने बताया, 'पंडित की भूमिका इस रैकेट में स्पष्ट रूप से सामने आई है। जो लोग घोटाले में शामिल हैं, देश के किसी भी कोने में छिपे हों बख्शे नहीं जाएंगे।' 

पुलिस ने दो अन्य जासूसों संतोष पंडगले (34) और प्रशांत सोनावाणे (34) को नवी मुंबई से गिरफ्तार किया था। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि रजनी का बयान दर्ज कर लिया गया है और हम उनसे पूछताछ कर रहे हैं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार जासूसों के द्वारा की गई जासूसी के हवाले से पता चलता है कि इन्होंने अपने ग्राहकों को एक बड़ी राशि के लिए सीडीआर देने का वादा किया था। पुलिस ने दिल्ली के एक व्यक्ति पर जीरो एफआईआर दर्ज की है जो आरोपियों को लगातार सीडीआर उपलब्ध कराता था। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week