अब अफगानिस्तान में भी WHATSAPP पर रोक

Sunday, November 5, 2017

काबुल। चीन द्वारा सभी लोकप्रिय इंस्टंट मेसेजिंग ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने के करीब एक महीने बाद अफगानिस्तान ने शनिवार को देश में वॉट्सऐप पर 20 दिनों के लिए रोक लगा दी है। 'द न्यू यॉर्क टाइम्स' के अनुसार, अफगानिस्तान सरकार ने कई निजी दूरसंचार कंपनियों को देश में वॉट्सऐप और टेलिग्राम इंस्टंट मेसेजिंग सेवाओं को निलंबित करने के लिए कहा है। इस कदम को नागरिकों की अभिव्यक्ति की आजादी को कम करने के प्रयास के रूप में भी देखा जा रहा है। 

रिपोर्ट के अनुसार, सलाम टेलिकॉम के ग्राहकों के लिए वॉट्सऐप और टेलिग्राम दोनों ही काम नहीं कर रहे हैं। सलाम सरकारी स्वामित्व वाली कंपनी है। अफगानिस्तान के लोगों ने इस कदम को गलत और गैरकानूनी करार दिया है। नाई समूह के कार्यकारी निदेशक अब्दुल मुजीब खलवटगर ने कहा, 'संविधान के अनुसार, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता अफगानिस्तान में अलंघनीय है। वॉट्सऐप और टेलिग्राम अभिव्यक्ति की आजादी के उपकरण हैं। अगर सरकार उन पर प्रतिबंध लगाती है तो इसका मतलब है कि कल वह अफगानिस्तान में मीडिया के खिलाफ भी खड़ी हो सकती है।' 

वॉट्सऐप और टेलिग्राम पर लगाए गए प्रतिबंध के कारण गुरुवार को स्पष्ट नहीं हो पाए। दूरसंचार नियामक प्राधिकरण के उपनिदेशक ने बताया कि प्रतिबंध सुरक्षा कारणों से लगाए गए हैं। 'द न्यू यॉर्क टाइम्स' ने कहा, 'वॉट्सऐप और टेलिग्राम अकसर तालिबान और अन्य आतंकवादी समूहों द्वारा सरकारी निगरानी से बचने के लिए उपयोग किए जाते हैं।' अफगानिस्तान सरकार ने कहा कि एक नई तकनीक शुरू करने के लिए इन ऐप्स पर कुछ समय के लिए प्रतिबंध लगाया गया है, क्योंकि उपयोगकर्ताओं ने वॉट्सऐप की सेवा की गुणवत्ता के बारे में शिकायत की थी। पिछले महीने विडियो, वॉइस चैट और वॉट्सऐप पर इमेज को बंद करने के बाद चीन ने व्हाट्सएप पर लिखित संदेश भेजने पर भी प्रतिबंध लगा दिया था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week