भारत पर हमले के लिए TUNNEL खोद रहा था पाकिस्तान, नाकाम

Sunday, October 1, 2017

नई दिल्ली। भारतीय सेना पर उड़ी जैसा हमला करने के लिए पाकिस्तानी सेना के संरक्षण प्राप्त आतंकवादी कश्मीर के अरनिया सेक्टर में लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) पर सुरंग खोद रहे थे। अभी तक यह सुरंग 14 फीट लंबी खोदी जा चुकी है परतु भारतीय सेना ने उनकी यह कोशिश नाकाम कर दी। यहां हथियार और खानेपीने का सामान भी बरामद किया गया है। बीएसएफ ने बताया कि आतंकी इस सुरंग से घुसपैठ कर फेस्टिव सीजन को बर्बाद करने की प्लानिंग कर रहे थे, जिसे नाकाम कर दिया गया है। बता दें कि अरनिया सेक्टर में हाल के दिनों में सीज फायर वॉयलेशन की घटनाओं में तेजी आई है। पिछली 17 सितंबर को पाकिस्तानी रेंजर्स की फायरिंग में 3 सिविलियन घायल हो गए थे।

पाकिस्तान की ओर से खोदी गई थी सुरंग
जम्मू फ्रंटियर के बीएसएफ आईजी राम अवतार ने बताया, "पाकिस्तानी साइड की ओर से 14 फीट लंबी सुरंग खोदी गई थी। इसमें जंग के हालात के हिसाब से सामान इकट्ठा किया गया था। ये सुरंग अभी पूरी नहीं हुई थी। विक्रम और पटेल पोस्ट के पास सफाई ऑपरेशन के दौरान बीएसएफ को ये सुरंग मिली।"

हथियारबंद लोगों के रहने के सबूत मिले
बीएसएफ ने बताया कि टनल से मिले सामान से जाहिर होता है कि यहां हथियारबंद लोग थे, जो किसी तरह वापस पाकिस्तान भागने में कामयाब रहे। बता दें कि अरनिया में पाकिस्तान के सीज फायर को देखते हुए इंटरनेशनल बॉर्डर पर सुरंगों की खोज का अभियान चलाया गया है।

सुरंग से ये सामान मिला
सुरंग के पास मैग्जीन, भरे हुए कारतूस, एलईडी हेड लाइट्स, बैट्री, टेक्निकल इक्विपमेंट, कई दिनों का खाने-पीने का सामान मिला है। खाने-पीने के पैकेट्स पर उर्दू में नाम लिखे हुए हैं।

उड़ी जैसे हमले की साजिश की थी नाकाम
कश्मीर के उड़ी सेक्टर में रविवार 24 सितंबर को सिक्युरिटी फोर्सेज ने एनकाउंटर में 3 आतंकियों को मार गिराया। आर्मी के एक ऑफिशियल ने बताया कि उड़ी के कालगई एरिया में कुछ आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। इस पर सुबह आर्मी और पुलिस ने तलाशी अभियान शुरू किया। इसी दौरान आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी गोलीबारी में 3 आतंकी मारे गए। इसके बाद मंगलवार को कश्मीर में हिजबुल मुजाहिदीन का चार्ज संभालने आया टॉप कमांडर अब्दुल कयूम भी मारा गया था। डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस एसपी वैद ने कहा था, "आतंकियों की साजिश सुसाइड अटैक करने की थी, जैसा कि पिछले साल उड़ी में आर्मी बेस पर हुए हमले में एक आतंकी ने किया था। एक बड़ी त्रासदी टल गई।"

घुसपैठ के लिए तोपों से भी कवर देती है पाक आर्मी
आर्मी ने जून में बताया था कि पाकिस्तान आर्मी हथियारबंद आतंकियों की घुसपैठ में मदद के लिए उन्हें तोपों से कवर फायर दे रही थी। आर्मी स्पोक्सपर्सन ने कहा था, "भारतीय सेना ने पाकिस्तान आर्मी की कई साजिशों को नाकामयाब किया है। पाकिस्तान आर्मी आतंकियों को हमारे देश में घुसाने के लिए कवर दे रही है और इस पर पैनी नजर रखी जा रही है। बता दें कि सितंबर में पाकिस्तान की ओर से हुए सीजफायर वॉयलेशन के दौरान एक जवान शहीद हो गया और एक सिविलयन की जान गई। कई लोग घायल भी हुए हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week