कोई कहेगा दिया जलाने से प्रदूषण होता है तो क्या बैन कर दोगे: RSS

Saturday, October 14, 2017

भोपाल। दिल्ली-एनसीआर में मौजूद खतरनाक प्रदूषण स्तर के चलते कोर्ट ने वहां पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने इस फैसले पर खुली आपत्ति जताई है। संघ का कहना है कि सभी तरह के पटाखों के प्रदूषण नहीं होता। कल कोई कह देगा कि दिया जलाने से भी प्रदूषण होता है तो उन्हे भी बैन कर दिया जाएगा। यह बयान संघ के महासचिव सुरेश भैय्याजी जोशी ने भोपाल में आयोजित संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी मंडल की तीन दिवसीय बैठक के बाद दिया। भैय्याजी जोशी ने कहा कि सभी पटाखों से प्रदूषण नहीं होता। कल को कोई दिवाली के मौके पर दीया जलाने पर भी आपत्ति करेगा तो क्या दिया जलाना भी प्रतिबंधित कर दिया जायेगा?

राजधानी के शारदा विहार में चल रही आरएसएस की अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल बैठक के आखिरी दिन सरकार्यवाह भैय्या जी जोशी ने कहा कि संघ आरक्षण का समर्थक है। आरक्षण को तब तक चलना चाहिए, जब तक समाज को उसकी आवश्यकता है। आरक्षण पर किसी को शिकायत नहीं होना चाहिये। जिनको आरक्षण मिलता है, वो तय करें कि कब तक लाभ लेना है। लेकिन आरक्षण के कारण कर्मचारियों और अधिकारियों में भेदभाव नहीं होना चाहिए। आरक्षण की कमियां दूर की जानी चाहिए। प्रमोशन में आरक्षण के मासले पर भैय्या जी जोशी चुप्पी साध गए।

रोहिंग्या मुसलमान एक गंभीर मुद्दा है। सबसे बडा सवाल ये है कि आखिर उन्हें म्यांमार से निष्कासित क्यों किया गया। उन्होंने कहा कि कहीं किसी साजिश के तहत रोहिंग्या भारत में प्रवेश तो नहीं चाहते, इसलिए उनकी पृष्ठभूमि जाने बिना प्रवेश नहीं दिया जाना चाहिए। उन्होनें कहा कि भारत में कश्मीर और हैदराबाद में सबसे ज्यादा रोहिंग्या मुस्लमान रहते हैं। उन्होंने कहा कि देश में निश्चित संख्या से ज्यादा बाहरी लोगों को प्रवेश नहीं दिया जाना चाहिए।

संघ का किसानों और युवाओं पर फोकस
अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि बैठक में संघ की आगामी तीन साल की कार्ययोजना तैयार की गई है। संघ आगामी समय में विशेष तौर पर किसान और युवाओं पर फोकस करेगा। किसानों के सामने कई तरह की चुनौतियां हैं, किसानों को जैविक खेती की तरफ ध्यान देने की जरूरत है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week