जबलपुर: कर्ज में डूबे किसान ने की आत्महत्या, किसानों ने लगाया जाम

Friday, October 6, 2017

जबलपुर/शहपुरा। उड़द की फसल खराब होने और कर्ज में डूबे किसान ने खेत मे ही जहर पीकर आत्महत्या कर ली जिसे गंभीर हालत में अस्पताल ले जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया। जिसके बाद ग्रामीणों ने शव को रखकर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। जबकि स्थानीय पुलिस प्रशासन और अधिकारियों ने ग्रामीणों को समझाकर शांत कराया और मृतक के परिजनों को कुछ सहायता राशि दी गयी।

शहपुरा भिटौनी जनपद क्षेत्र के ग्राम पंचायत मानस नगर ठूठा गांव के किसान हेमंत सिंह पिता अर्जुन सिंह (42वर्ष) ने दोपहर 3.30 बजे अपने खेत मे ही जहर खा लिया जिसकी अस्पताल ले जाते समय रास्ते मे दम तोड़ दिया। मृतक किसान ने खेत मे उडद की फसल खराब होने और कर्ज से मांनसिक परेशान रहता था जिसके चलते जहर खाकर आज जान दे दी । किसान की मौत के बाद ग्रामीणों ने बस स्टेड हाइवे पर शव रखकर  सरकार के खिलाफ़ विरोध प्रदर्शन करते हुए नेशनल हाइवे में जाम लगाया। जिसके बाद पुलिस अधिकारियो ने समझाइस के बाद आक्रोशित ग्रामीणों को शांत कराया। 

मृतक किसान के परिजनों को सहायता राशि दी। मौके पर शाहपुरा थाना प्रभारी, एसडीएम ओर एसडीओपी भी पहुँच कर परिजनों और ग्रामीणों से बात करके मुआवजा राशि 10 हजार रुपये प्रदान की । जबकि पंचायत ने भी 5 हजार रुपये की सहायता राशि और अन्य लोगो ने भी मृतक के परिजनों को प्रदान की। 

कर्ज और जमीन गिरवी रखी है
मृतक किसान के पुत्र अंकित (16वर्ष) ने बताया कि पापा गांव के कर्ज को लेकर परेशान थे और बोल रहे थे कि कर्ज बढ़ रहा है जमीन भी गिरवी रखी है , साथ ही फसल भी ठीक नही है ऐसे में परिवार का खर्च उठाना मुश्किल हो रहा है । जिसके बाद दोपहर करीब 1बजे खेत चले गए और 3.30 बजे  पापा के जहर खाने की सूचना मिली। म्रतक की 2 एकड़ जमीन थी और चार हिस्सेदार  थे पर तीन भाई मजदूरी करते थे और म्रतक अपने पिता के हिस्से की दो एकड़ जमीन जिसमे उसने बारिश के मौसम में उडद बोया था जो महज 1 क्विंटल की उपज हुई जिसकी लागत 1800 रुपये और बीज लगा था। लेकिन मंडी में 2200 रुपये का बिका था। 

सूदखोरों से था कर्ज
40 हजार गांव में था कर्ज ओर 10 हजार में जमीन गिरवी रखी थी जो कि फसल खराब होने और परिवार का पेट पालने लिया था। पर चुका नही पाया और दुनिया ही छोड़ दी अब सरकार को सोचना है कि किसान की बात तो करते है पर करना क्या है नही तो मौत का सिलसिला चलता रहेगा।

कांग्रेस ने की निंदा
कांग्रेस के ठाकुर सोबरन सिंह, पूर्व विधायक ठाकुर रणसिंह और अजय नारायण सिंह (युवा कांग्रेस नेता) ने मृत किसान के प्रति संवेदना जताते हुये सरकार की निंदा करते हुये । प्रदेश सरकार के खिलाफ उग्र आंदोलन की चेतावनी दी। जबकि मृतक किसान के परिजनों से कांग्रेस नेता ठाकुर सोभरन सिंह ने मिलकर हर संभव मदद करने बोला और पीड़ित परिजनों की मदद के लिए एसडीएम से भी मुलाकात कर बात की।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week