प्रिय शिवराज, सूखा पीडित किसानों के कर्ज और बिजली बकाया माफ करें

Thursday, October 12, 2017

बृजेन्द्र सिंह राठौर/टीकमगढ। माननीय मुख्यमंत्री जी जैसा कि आपका दावा है, कि आपकी सरकार किसान हितैषी सरकार है। मैं आपका ध्यान आकृष्ट कराना चाहता हूॅ। मुददे वह है। जिन्हे न तो आपके जनप्रतिनिधि समझ पाये, और न ही आपकी सरकार के अधिकारी। एक तरफ आपने प्रदेश में आनंद विभाग का गठन करके यह जताने की कोशिश की है, कि प्रदेश में सब कुछ कुशल मंगल है लेकिन परिस्थितिया बिल्कुल उलट है। बुन्देलखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों में हालत बिलकुल उलट है। पहले से ही यहां का किसान कर्ज के बोझ से दवा हुआ है। उस पर कभी बैंक, का कभी बिजली बिलों को लेकर शासन का तो कभी साहूकार का दबाव बना रहता है। 

इस साल सूखे के हालत हैं। पेयजल और सिंचाई जल का बडा संकट उत्पन्न हो गया है। आपकी सरकार ने इलाके को सूखा ग्रस्त घोषित करने में भी देर कर दी और अब सूखा घोषित करने के बाद भी किसानों से पूर्व की तरह राहत की बजाय फिर छलावा होगा। यह हमारी अशंका है। हमारी मांग है कि यथा शीघ्र सूखा पीडित किसानों के कर्ज और बिजली के बिल माफ हों। फसल बीमा की राशि का भुगतान सरकार सुनिश्चित कराए। 

माननीय महोदय जी बुन्देलखण्ड का किसान विपरीत परिस्थितियों में भी आत्मसम्मान नही छोडता लेकिन हाल ही में कांग्रेस पार्टी के कार्यक्रम के बहाने आपके प्रशासन ने जिस तरह हमारे अन्नदाताओं को निवस्त्र कर अपमानित करने का कार्य किया है। वह पूरे प्रदेश को शर्मसार करने वाली घटना है। इस घटना से भी ज्यादा दुखद पहलू है। इस विषय पर आपकी सरकार की असंवेदनशीलता। इस शर्मनाक घटना के जिम्मेदारो पर कार्रवाई की बजाय एक तरफ जॉच के नाम पर औपचारिकता निभाई जा रही है। वही आपके कुछ जनप्रतिनिधि इस मामले को राजनैतिक रूप देने का प्रयास कर रहे हैं। 

मुख्यमंत्री जी, एक तरफ बुन्देलखण्ड का अन्नदाता कुदरत की मार से परेशान है। वही आपका शासन गरीबों के जले पर नमक छिडक रहा है। गुजरात, महाराष्ट, और हिमाचल जैसे राज्यों ने पेट्रोल डीजल पर टेक्स कम कर दिया है। परंतु आप मौन हैं। हमारे टीकमगढ जिला के आम जनता और किसानों पर क्या गुजरती है। जब सीमा पर लगे उत्तर प्रदेश में हमसे कही सस्ता पेट्रोल डीजल मिलता है। आप तो स्वयं किसान पुत्र कहते है। फिर किसानों को राहत देने के लिये। पेट्रोल डीजल के दाम कम क्यो नही करते आप, आपसे विनम्र अनुरोध है। कि बुन्देलखण्ड के किसानो पर अत्याचार के बजाएॅ उनको राहत देने के प्रयास करे। किसानों और आमजनों को चुनावी राजनीति से इतर मानवीय दृष्टि से देखे। 
धन्यवाद 
आपका 
बृजेन्द्र सिंह राठौर 
पूर्व विधायक पृथ्वीपुर
प्रदेश कॉग्रेस महासचिव

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week