व्यापमं: CBI ने ससुराल में छापा मारा तो फरार बिल्डर दिलीप गुप्ता ने सरेंडर कर दिया

Wednesday, September 13, 2017

भोपाल। व्यापमं घोटाले का इनामी फरार आरोपी दिलीप कुमार गुप्ता ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। सीबीआई ने उसे रिमांड पर ले लिया है। बिल्डर दिलीप गुप्ता लंबे समय से फरार था। वो अनूपपुर में अपनी ससुराल में छुपा हुआ था। पिछले दिनों सीबीआई ने उसकी ससुराल में छापामार कार्रवाई की थी। इसके बाद उसने सरेंडर कर दिया। जानकारी के मुताबिक अनूपपुर के दिलीप गुप्ता को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। उसकी काफी समय से तलाश थी। उसने छह परीक्षाओं वनरक्षक भर्ती परीक्षा 2013, खाद्य और नापतौल भर्ती परीक्षा 2012, पीएमटी 2012 व पीएमटी 2013, पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा 2012 और एमपी डेयरी फेडरेशन को-ऑपरेटिव लिमिटेड भर्ती परीक्षा 2013 में करीब दो दर्जन से ज्यादा परीक्षार्थियों को फायदा पहुंचाने में मध्यस्थ की भूमिका निभाई थी।

दिलीप के खिलाफ व्यापमं घोटाले की जांच कर रही एसटीएफ ने प्रकरण दर्ज किया था, लेकिन वह फरार चल रहा था। एसटीएफ द्वारा दर्ज किए गए प्रकरण में आरोप है कि दिलीप गुप्ता ने मूल परीक्षार्थियों, व्यापमं के अधिकारियों व अन्य लोगों के साथ मिलकर ओएमआर शीटों में गड़बड़ी कर परीक्षार्थियों को फायदा पहुंचाया। दिलीप ने परीक्षार्थियों, व्यापमं के अधिकारियों व स्कोरर के बीच मध्यस्थ की भूमिका निभाई थी।

भोपाल में संपत्ति कुर्क हो चुकी है
भोपाल में कोर्ट के निर्देश पर व्यापमं घोटाले के आरोपी दिलीप गुप्ता की अगस्त 2014 में संपत्ति कुर्क कर ली गई थी। टीटी नगर नजूल वृत के तहसीलदार आरएल बागरी ने शाहपुरा स्थित अमन अपार्टमेंट में फ्लैट नंबर टी-1 कुर्क किया था। उल्लेखनीय है कि व्यापमं में दुग्ध संघ भर्ती प्रक्रिया में गड़बड़ी का आरोप दिलीप गुप्ता पर लगा है। वो फरार घोषित किया गया है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week