बाल, मुंहासे, बीपी, कैंसर, अल्जाइमर, कोलेस्ट्रॉल और इन्फेक्शन का घरेलू इलाज

Monday, August 21, 2017

लहसुन सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता है, बल्कि इसके बहुत सारे हेल्थ बेनिफिट्स भी हैं। लहसुन को कच्चा खाने से कई प्रकार की बीमारियों की संभावना कम हो जाती है। साथ ही, लहसुन का इस्तेमाल घरेलू नुस्खों से लेकर मेडिकल ट्रीटमेंट में भी किया जाता रहा है। बहुत सारे गुणों का खजाना लहसुन सेहत से जुड़ी किन समस्याओं को दूर करने में कारगर है ये जानेंगे।

बाल झड़ने से रोके
लहसुन में एलीसिन नाम का सल्फर कंपाउंड होता है, जो बाल झड़ने से रोकने के लिए काफी फायदेमंद होता है। बाल झड़ रहे हों तो लहसुन की कली को अपने सिर की खाल यानी खोपड़े में रगड़ें और थोड़ी देर पर बाद धो लें। लहसुन का रस निकालकर खोपड़े की मसाज भी कर सकते हैं।

मुहांसे से निजात
लहसुन आपको मुंहासे की समस्या से भी निजात दिला सकता है। इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स मुहांसे को खत्म कर देते हैं। इसलिए मुंहासे हैं तो रोजाना उन पर लहसुन को रगड़ें। जल्दी ही मुंहासे खत्म होने लगेंगे।
Other benefits: ब्लडप्रेशर कंट्रोल, कोलेस्ट्रॉल करे कम, इन्फेक्शन से बचाव, कैंसर से बचाव, पैर के दर्द में आराम, अल्जाइमर की बीमारी दूर, हड्डियों की मजबूती के लिए।

ब्लडप्रेशर कंट्रोल
अगर आपको हाई ब्लडप्रेशर की समस्या है तो आप अपने खाने में लहसुन को शामिल करें। इससे ब्लड प्रेशर कम होता है। आप कच्चे लहसुन की फांक भी खा सकते हैं। लहसुन हमारे ब्लड वेसल्स के लिए भी बेहद फायदेमंद है।

कोलेस्ट्रॉल करे कम
लहुसन का सेवन कोलेस्ट्रॉल के लेवल को भी कम करता है। यह ब्लड के ट्राइग्लीसराइड को कम करता है, जिससे कोलेस्ट्रॉल कम होता है। इसमें कई सारे ऐसे गुण होते हैं, जो हमें हर तरह की एलर्जी से बचाते हैं।

इन्फेक्शन से बचाव
लहसुन त्वचा के लिए भी फायदेमंद है। इसके नियमित सेवन से रिंगवॉर्म और एथलीट फुट जैसे स्किन के संक्रमण ठीक हो जाते हैं। इसके सेवन से सर्दी-जुकाम से भी राहत मिलती है और सांस की समस्या दूर होती है।

कैंसर से बचाव
रोजाना लहसुन का सेवन कोलन कैंसर से बचाता है। रिसर्च से ये बात सामने आई है कि लहसुन ट्यूमर की संभावनाओं को भी कम करता है। इसके अलावा खाने-पीने की गड़बड़ी से अक्सर पेट का कैंसर होने का डर बना रहता है जिसके लिए लहसुन खाना फायदेमंद रहेगा।

पैर के दर्द में आराम
पैरों में दर्द की समस्या का एक कारण उनमें खराब ब्लड सर्कुलेशन होता है। जिससे आर्टिरीयल डिजीज हो सकती है। लगातर 12 हफ्तों तक लहसुन का सेवन करने से दर्द में आराम मिलने के साथ ही ब्लड का सर्कुलेशन भी सही तरीके से होता है।

अल्जाइमर की बीमारी दूर
लहसुन में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट, बॉडी के डैमेजिंग को रोकता है। इसके सेवन से बॉडी में एंटी ऑक्सीडेंट एंजाइम की मात्रा बढ़ जाती है जो अल्जाइमर और डिमेंशिया जैसी बीमारियों की संभावनाओं को कम करती है।

हड्डियों की मजबूती के लिए
महिलाओं में होने वाले कैल्शियम की कमी की समस्या लहसुन खाकर पूरी की जा सकती है। कच्चा लहसुन खाने से बढ़ती उम्र के साथ होने वाली आर्थराइटिस की समस्या दूर रहती है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week