TAJ EXPRESS में खाने की अवैध सप्लाई

Friday, July 14, 2017

GWALIOR : TAJ EXPRESS में सालों से चल रही साइड पेंट्री को रेलवे ने तीन महीने पहले खत्म कर दिया। इसके बाद भी इस ट्रेन में झांसी, ग्वालियर से खाने का सामान, पानी, कोल्डड्रिंक की बोतलें बेचने के लिए चढ़ाई जा रही हैं। झांसी और ग्वालियर से अवैध वेंडर ट्रेन में सामान लेकर चढ़ते हैं फिर ट्रेन में यात्रियों को बेचते हैं। लेकिन आरपीएफ और रेलवे के वाणिज्य विभाग के अधिकारी इन्हें नहीं रोक पा रहे हैं।

दरअसल ताज एक्सप्रेस सुबह निजामुद्दीन से चलती है और दोपहर में झांसी पहुंचती है। इसके बाद झांसी से रवाना होकर ग्वालियर होते हुए रात को दिल्ली पहुंचती है। चूंकि ट्रेन सुबह चलती है इसलिए यात्रियों को हल्की-फुल्की खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाने के लिए साइड पेंट्री इसमें शुरू की गई थी। साइड पेंट्री के चलते समोसे, चिप्स, नमकीन, कोल्डड्रिंक, बिस्किट, पानी की बोतल वेंडर बेच सकते थे। साइड पेंट्री के चलते कोच की टॉयलेट के पास ही सामान रखना पड़ता है, जिसके चलते यात्रियों को खासी परेशानी होती है। इसके चलते ही रेलवे ने तीन माह पहले साइड पेंट्री का ठेका खत्म होने के बाद इसका रिनूअल नहीं किया। साइड पेंट्री तो खत्म हो गई, लेकिन अवैध वेंडरिंग शुरू हो गई। ताज एक्सप्रेस जब वापसी में झांसी से ग्वालियर होते हुए दिल्ली जाती है तो झांसी-ग्वालियर से करीब दर्जनभर अवैध वेंडर खाद्य सामग्री, पानी, कोल्डड्रिंक चढ़ाते हैं। आरपीएफ और रेलवे के वाणिज्य विभाग के अधिकारियों की जिम्मेदारी इन्हें रोकने की है, लेकिन यह लोग जानकर भी अंजान बने हैं।

ताज एक्सप्रेस में साइड पेंट्री को खत्म यात्रियों की परेशानी को देखते ही किया गया था। यह लोग खाद्य सामग्री के दर्जनों कार्टन गैलरी, टॉयलेट के पास रखते थे। फिर पूरी ट्रेन में घूम-घूमकर सामान बेचते थे। इसके चलते यात्रियों को परेशानी होती थी। यात्रियों की शिकायत पर ही साइड पेंट्री बंद की गई थी। रेलवे ने तो यात्रियों की परेशानी को देखकर साइड पेंट्री बंद कर दी लेकिन आरपीएफ और स्थानीय अधिकारियों की मिलीभगत से यात्रियों की परेशानी खत्म नहीं हुई। ताज एक्सप्रेस में गुरुवार को एक यात्री को दो वेंडरों ने जमकर पीटा। यात्री ने ग्वालियर में उपस्टेशन अधीक्षक वाणिज्य से शिकायत की है।

आगरा का रहने वाला इमरान खान डी-5 कोच में सवार था। वह झांसी से ट्रेन में सवार हुआ था और आगरा जा रहा था। उसके बगल में जो सीट थी, उसी पर एक वेंडर ने समोसे से भरा थाल रख दिया। काफी देर बाद जब यात्री ने उसे उठाने को कहा तो वह अभद्रता करने लगा। यात्री ने इनका पहचान पत्र मांगा तो साथी के साथ मिलकर उसकी पिटाई कर दी। यात्री ने ट्रेन के ग्वालियर पहुंचने पर शिकायत की।

ताज एक्सप्रेस में साइड पेंट्री खत्म कर दी गई है। अगर अवैध वेंडरिंग चल रही है तो छापा मारेंगे। अवैध वेंडरिंग के खिलाफ अभियान एक दो दिन में शुरू करने जा रहे हैं।
नीरज भटनागर, डिवीजनल कमर्शियल मैनेजर, झांसी रेल मंडल

ताज एक्सप्रेस में साइड पेंट्री खत्म कर दी है। अवैध वेंडरिंग हो रही है तो कल से ही इसके खिलाफ अभियान चलाएंगे। 
नीरज शर्मा, मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी, नॉर्दन रेलवे

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week