CM के गृहजिले में मुसलमानों के 18 घर जलाए

Tuesday, July 11, 2017

भोपाल। सीहोर में राजपूत परिवार की नाबालिग लड़की एक मुस्लिम युवक के साथ भाग गई। इस मामले में पुलिस अपनी कार्रवाई पूरी कर पाती इससे पहले ही लड़की के परिवार व रिश्तेदारों ने मिलकर युवक एवं उसके रिश्तेदारों के 18 घर जला दिए। हालात तनावपूर्ण हो गए। कुछ लोग इसे लवजिहाद से जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं। मामला छीपानेर, नसरुल्लागंज का है। एसपी सीहोर मनीष कपूरिया ने बताया कि युवती नाबालिग है एवं आरोपी युवक स्कूल वैन चलाता था। इसी दौरान दोनों के बीच बातचीत हो गई। घटना वाले दिन भाई राजा लड़की को लेने के लिए स्कूल आया। 

यहां से वो बाइक पर बिठाकर लड़की को अपने साथ होशंगाबाद ले गया। होशंगाबाद में प्रेमी शाबिर अली मिला। वो लड़की को अपने साथ नागपुर ले गया। यहां एक चॉल में दोनों छिपे हुए थे। पुलिस ने दोनों को हिरासत में लिया और सीहोर ले आई। लड़की को उसके पिता के सुपुर्द कर दिया गया जबकि युवक को जेल भेज दिया गया। शाबिर अली की उम्र 20 से 30 के बीच है। वो पहले से शादीशुदा है। 

इधर गांव में इससे पहले कि पुलिस अपनी प्रक्रिया पूरी कर पाती, लड़की के परिवाजनों ने शाबिर अली के परिवार को धमकी दी कि वो लड़की को वापस लौटा दें नहीं तो उनके सारे घर जला दिए जाएंगे। तय समय पूरा होने के बाद लड़की के परिवार एवं परिजनों ने मिलकर शाबिर एवं उसके रिश्तेदारों के 18 घर जला डाले। लड़की के पिता ने 4 जुलाई को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी थी। लड़की के पिता गांव के उपसरपंच हैं। 

आगजनी की घटना 8 जुलाई को हुई। सोमवार (10 जुलाई) को दोनों को नसरुल्लाहगंज गांव वापस ले आया गया। शाबिर अली पर लड़की के अपहरण और बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराया गया है। शाबिर इस समय जेल में है। लड़की को उसके माता-पिता को वापस सौंप दिया गया है। पुलिस ने अभी तक छह लोगों को लूट और आगजनी के आरोप में गिरफ्तार किया है। पीआरओ अजय शर्मा ने बताया कि जिन लोगों के घर जलाए गए हैं उनके लिए इंदिरा आवास स्वीकृत कर दिए गए हैं। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week