ASIAN ATHLETICS CHAMPIONSHIP ने भारत के लिए कमाया पहला गोल्ड

Friday, July 7, 2017

मनप्रीत कौर ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए भारत को 22वीं एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में पहला स्वर्ण पदक दिलवा दिया है। मनप्रीत कौर और लंबी दूरी के धावक जी लक्ष्मणन ने 22वीं एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गुरुवार को स्वर्ण पदक जीते। प्रतियोगिता के पहले दिन कुल सात पदक जीतकर भारत पदक तालिका में शीर्ष पर रहा। वी नीना और नयन जेम्स ने महिलाओं की लॉन्ग जंप में रजत और कांस्य पदक हासिल किया जबकि विकास गौड़ा ने पुरूषों के डिस्कस थ्रो, संजीवनी यादव ने महिलाओं की 5000 मीटर दौड़ और अनु रानी ने जैवलिन थ्रो में कांस्य पदक अपने नाम किए।

मनप्रीत ने अपने जन्मदिन पर महिलाओं की शॉट पुट में 18.28 मीटर फेंककर स्वर्ण पदक हासिल किया. लक्ष्मणन ने 5000 मीटर की दौड़ 14 मिनट 54.48 सेकेंड में पूरी करके पहला स्थान हासिल किया. इस तरह से इन दोनों ने एशियाई चैंपियन बनने पर लंदन में होने वाली विश्व चैंपियनशिप में भी अपनी जगह सुरक्षित की. हालांकि आखिरी क्षणों में चैंपियनशिप में प्रवेश पाने वाले अनुभवी विकास गौड़ा को पुरूषों के डिस्कस थ्रो में कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा. उन्होंने 60.81 के अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास के साथ कांस्य पदक जीता.

एशियाई स्तर पर गौड़ा को लंबे समय से चुनौती देने वाले ईरान के एहसान हदादी ने 64.54 के सर्वश्रेष्ठ प्रयास से स्वर्ण जबकि मलेशिया के मोहम्मद इरफान ने 60.96 मीटर के प्रयास के रजत पदक जीता. गुरुवार को अपना 27वां जन्मदिन मना रही मनप्रीत ने खचाखच भरे कलिंग स्टेडियम में मौजूदा चैंपियन चीन की गुओ तियानक्विन को हराकर खुद को जन्मदिन का शानदार तोहफा दिया. तियानक्विन ने 17.91 मीटर के साथ रजत जबकि जापान की आया ओटा ने 15.45 मीटर गोला फेंककर कांस्य पदक जीता.

मनप्रीत से स्वर्ण पदक की उम्मीद की जा रही थी क्योंकि चीन के झिन्हुवा में एशियाई ग्रां प्री में उनका 18.86 मीटर का प्रदर्शन यहां भाग ले रही आठ खिलाड़ियों के बीच इस सत्र का सर्वश्रेष्ठ था. विश्व की नंबर चार चीन की गोंग लिजियो ने चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं लिया.

एशियाई चैंपियनशिप के विजेताओं को लंदन में अगले महीने होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिए सीधे ही सीट मिलेगी लेकिन पटियाला के करीब स्थित गांव की रहने वाली मनप्रीत चीन में अपने प्रदर्शन से पहले ही इसके लिए क्वालिफाई कर चुकी थी. अपने पहले बच्चे को जन्म देने के बाद पिछले साल सर्किट पर वापसी करने वाली मनप्रीत ने इससे पहले कहा कि वह 18 मीटर को पार करके खुश हैं. उन्होंने कहा, ‘यह मेरे करियर का दूसरा सर्वश्रेष्ठ थ्रो है और मैं इस प्रदर्शन से काफी खुश हूं. मैंने खुद से कहा था कि मुझे 18 मीटर से आगे निकलना है.’

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week