मॉडल स्कूल में बच्चों को नमाज पढ़ाई जाती थी, अध्यापक कहते धर्मांतरण कर लो

Sunday, July 30, 2017

नूंह/हरियाणा। मेवात मॉडल स्कूल मढ़ी पर गंभीर आरोप लगा है। यहां 3 अध्यापकों पर बच्चों का धर्मांतरण कराने की कोशिश का आरोप लगा है। बताया गया है कि वो गैरमुस्लिम बच्चों को नमाज पढ़ने के लिए बाध्य करते थे और धर्मांतरण के लिए प्रेरित करते थे। स्कूल के प्रिंसिपल से इसकी शिकायत की तो उन्होंने भी कार्रवाई नहीं की। परेशान होकर 3 छात्रों ने स्कूल जाना ही बंद कर दिया। अब मामले ने तूल पकड़ लिया है। 

तावडू के रहने वाले छात्र मढ़ी गांव के मेवात मॉडल स्कूल की नौवीं व आठवीं कक्षा में पढ़ते हैं। इन तीनों छात्रों ने मुख्य अध्यापक व जिला प्रशासन को दी शिकायत में आरोप लगाया है कि स्कूल हॉस्टल में एक संप्रदाय के पांच छात्र थे। आरोप है कि उन्हें नमाज पढ़ाई जाती थी तथा धर्म परिवर्तन करने को भी कहा जाता था। इसी के चलते उन्होंने स्कूल जाना बंद कर दिया। 

अभिभावकों का कहना है कि बच्चों को बेहतर शिक्षा मिले इसके लिए मेवात मॉडल स्कूल में दाखिल करवाया था। लेकिन कुछ अध्यापक तो उनके बच्चों की जिंदगी खराब करने पर उतारू थे। काफी समय से बच्चे इस संदर्भ में शिकायत कर रहे थे। दुखी होकर अभिभावक अपने बच्चों को घर ले आए तथा जिला प्रशासन को भाईचारा खराब करने वाले ऐसे अध्यापकों पर कड़ी कार्रवाई के लिए शिकायत की। 

प्रिंसिपल ने नहीं की कार्रवाई
आरोप है कि छात्रों ने इस बारे में प्रिंसिपल को भी शिकायत की थी। लेकिन उन्होंने इस मामले को अनसुना कर दिया। बात हद से आगे बढ़ी तो छात्र व अभिभावकों को उपायुक्त का दरवाजा खटखटाना पड़ा।

-------------------
स्कूल के तीन बच्चों ने इस संदर्भ में शिकायत दी है। तुरंत प्रभाव से कार्रवाई करते हुए अध्यापक मैनुद्दीन व मुबारिक अली को निलंबित किया गया है, जबकि मोहम्मद आरिफ का तबादला किया गया है। मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी बनाई गई है। कमेटी को एक सप्ताह में रिपोर्ट देने को कहा गया है। अगर आरोप सत्य साबित होते हैं तो आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई होगी।
मनीराम शर्मा, उपायुक्त

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week