तेज रौशनी नहीं दे पाएगी सलमान की 'ट्यूबलाइट': MOVIE REVIEW TUBELIGHT

Friday, June 23, 2017

बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान ने फिल्म 'ट्यूबलाइट' का प्रमोशन तो काफी किया लेकिन ​पर्दे पर सलमान कुछ खास करते नजर नहीं आए। ईद पर रिलीज हुई खान बंधुओं की 'ट्यूबलाइट' जलेगी तो जरूरी लेकिन तेज रौशनी शायद ही दे पाए। यह फिल्म बजरंगी भाईजान से भी कमजोर दिखाई दे रही है। दोनों फिल्मों की स्टोरी लगभग एक​ जैसी है। वहां हीरो एक बच्ची को परिवार से मिलाने पाकिस्तान जाता है। यहां अपने भाई की तलाश में चीन जा रहा है। दोनों के कंपेयर करें तो बजरंगी भाईजान में ज्यादा दम नजर आता है। 

'ट्यूबलाइट' में कबीर खान और सलमान की जोड़ी तीसरी बार नजर आई है। इससे पहले कबीर खान की 'एक था टाइगर' और 'बजरंगी भाईजान' में सलमान काम कर चुके हैं। बॉलीवुड में सलमान की दूसरी पारी का धांसू आगाज 2009 में वॉन्टेड के साथ हुआ था लेकिन 2012 में कबीर खान की 'एक था टाइगर' के साथ सलमान ने बॉक्स ऑफिस पर ऐसे रिकॉर्ड्स बनाए जिसने सबको चौंका डाला। फिल्म 'ट्यूबलाइट' इनकी जोड़ी की तीसरी फिल्म है और अगर 'ट्यूबलाइट' को तीनों में सबसे कमजोर कही जाए तो गलत नहीं होगा। 

फिल्म में दो भाइयों लक्ष्मण (सलमान) और भरत (सोहैल खान) का प्यार दिखाया गया है। लक्ष्मण और बजरंगी भाईजान के 'पवन' में आपको कुछ सिमलैरिटी नजर आ सकती है। लेकिन लक्ष्मण इस फिल्म में पवन से कुछ कदम आगे निकलता नजर आया है। लक्ष्मण एक ऐसा कैरेक्टर है, जो दो देशों के बीच की लड़ाई को रोक सकता है। इस फिल्म में भारत और चीन के बीच लड़ाई दिखाई गई है।

भारत की आजादी से पहले के समय से फिल्म शुरू होती है और भारत-चीन की लड़ाई तक पहुंचती है। लक्ष्मण अपने भाई से बहुत प्यार करता है, भरत भारत-चीन लड़ाई से लौटकर नहीं आता है तो लक्ष्मण उसे खोजने निकल जाता है। लक्ष्मण को पूरा गांव 'ट्यूबलाइट' कहकर बुलाता है। फिल्म में मार्टिन का खास रोल है। चीनी चाइल्ड आर्टिस्ट लक्ष्मण की मदद करता है। सलमान फैन हैं, तो फिल्म देखने आप जाएंगे ही, वैसे इस फिल्म में कुछ भी बहुत खास नहीं है, बजरंगी भाईजान का 'पवन' ट्यूबलाइट के 'लक्ष्मण' से काफी स्ट्रॉन्ग कैरेक्टर था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week