मप्र के 25 SAS अधिकारियों को मिला IAS अवार्ड, 4 अटक गए

Tuesday, June 13, 2017

भोपाल। मप्र के 25 राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसर अब आईएएस बन गए हैं। केंद्र सरकार ने विभागीय पदोन्नति समिति (डीपीसी) की बैठक के एक महीने से ज्यादा समय बीतने के बाद आईएएस अवॉर्ड पाने वाले अफसरों की सूची जारी कर दी है। मंत्रालय में तैनात कार्मिक विभाग की उपसचिव अनुभा श्रीवास्तव भी आईएएस बन गई हैं, ऐसा पहली बार है जब जीएडी (कार्मिक) में काम करते हुए कोई अधिकारी आईएएस बना हो। जल्द ही इन अधिकारियों का बैच भी आवंटित किया जाएगा। उधर, चार अफसरों के प्रमोशन भी अटक गए हैं, वे आईएएस नहीं बन पाए। इनमें ललित दाहिमा, अशोक चौहान, बसंत कुर्रे और शिवपाल शामिल हैं।

ये अधिकारी बने आईएएस
1992 बैच: उमेश कुमार, आशीष कुमार, शैलबाला मार्टिन, जगदीश चंद्र जटिया, वेदप्रकाश, राकेश कुमार श्रीवास्तव।
1993 बैच: वंदना वैद्य, अनुभा श्रीवास्तव, राकेश सिंह, प्रबल सिपाहा, शशिभूषण सिंह, सत्येंद्र सिंह, मनीष सिंह, अमरपाल सिंह।
1994 बैच: छोटे सिंह, अक्षय सिंह, दिनेश श्रीवास्तव, सपना निगम, दीपक सक्सेना, अनिल कुमार खरे, रामप्रताप सिंह जादौन, संदीप माकिन, सुरेश कुमार, चंद्रशेखर सिंह वालिंबे।
1995 बैच: शीलेंद्र कुमार।

चार के नाम अटके
राप्रसे के चार अफसर आईएएस बनने से वंचित रह गए। ललित दाहिमा के खिलाफ विभागीय जांच चल रही है, वहीं अशोक चौहान का मामला कोर्ट में चल रहा है। जांच और कोर्ट प्रकरण के कारण डीपीसी की बैठक में बसंत कुर्रे और शिवपाल का लिफाफा भी नहीं खोला गया था और वे भी आईएएस नहीं बन पाए।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं