25 हजार ताकतवर शिक्षक के आगे गुर्राकर रह गया DPI

Friday, June 2, 2017

भोपाल। राज्य शासन ने दो दिन पहले शिक्षकों के अटैचमेंट खत्म कर दिए हैं। उन्हें हर हाल में 31 मई तक मूल संस्था में ज्वाइन करना था, लेकिन अब तक 15 शिक्षक ही अपनी मूल संस्थाओं में वापस लौटे हैं। जबकि अटैचमेंट 25 हजार से ज्यादा हैं। हालात ऐसे हैं कि लोक शिक्षण संचालनालय को कलेक्टरों को रिमाइंडर भेजना पड़ रहा है। अभी कटनी, अशोक नगर और होशंगाबाद कलेक्टरों को रिमाइंडर भेजा गया है।

शासन ने 30 मई को स्कूल शिक्षा विभाग के शैक्षणिक स्टाफ के अटैचमेंट खत्म कर दिए हैं। वहीं प्रतिनियुक्ति अवधि खत्म होने के बाद भी नहीं लौट रहे अधिकारियों और कर्मचारियों की सेवाएं वापस ले ली हैं। सभी से 31 मई तक हर हाल में ज्वॉइन करने को कहा गया था। इस आदेश के बाद पहले दिन तो अफरा-तफरी का माहौल रहा, लेकिन दूसरे दिन से सब सामान्य हो गया।

विभाग ने अभी तक कोई अधिकृत डाटा जारी नहीं किया है कि कितने अधिकारियों और कर्मचारियों ने मूल संस्था में ज्वॉइनिंग दे दी है, लेकिन लोक शिक्षण संचालनालय के सूत्र बताते हैं कि सिर्फ 15 शिक्षक लौटे हैं। उल्लेखनीय है कि शासन ने 31 मई तक ज्वॉइन नहीं करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों का मई का वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं।

सख्ती कार्रवाई करेंगे
हम जिलों से जानकारी इकठ्ठी कर रहे हैं। जल्द ही सही स्थिति सामने आ जाएगी। जिन कर्मचारियों ने तय तारीख को ज्वॉइनिंग नहीं दी है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। यदि उनका वेतन आहरित होता है, तो डीडीओ को सस्पेंड कर देंगे।
नीरज दुबे, कमिश्नर, स्कूल शिक्षा विभाग

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week