एक ऐसा खिलाड़ी जिन्हें 100 टेस्ट खेलने के बाद भी कभी वर्ल्ड कप में खेलने मौका नहीं मिला

Wednesday, May 17, 2017

राजू जांगिड़/खेल डेस्क | क्रिकेट इतिहास में ऐसे कई खिलाड़ी है जो अपने देश के लिए काफी समय तक खेले लेकिन किसी भी क्रिकेट विश्व कप में हिस्सा नहीं बन पाये । हालांकि इस सूची में ज्यादा खिलाड़ी तो नहीं है। भारतीय क्रिकेट टीम में भी एक ऐसा खिलाड़ी है जो 100 से ज्यादा टेस्ट मैच खेलने के बाद भी अपने कैरियर में किसी भी क्रिकेट विश्व कप में नहीं खेल पाए और है वेरी वेरी स्पेशल के नाम से मशहूर वीवीएस लक्ष्मण। 

लक्ष्मण ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए पहला टेस्ट मैच 20 नवम्बर 1996 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था और अंतिम टेस्ट मैच 24 जनवरी 2012 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। लक्ष्मण ने तकरीबन 16 साल तक टेस्ट क्रिकेट खेला जिसमें 1996 का विश्व कप ,1999 का विश्व कप ,2003 का विश्व कप, 2007 का विश्व कप तथा 2011 का विश्व कप भी ऐसे ही चला गया लेकिन लक्ष्मण को किसी भी विश्व कप में खेलने का मौका नहीं मिल पाया था। हालांकि लक्ष्मण के वनडे मैच खेलने का भी काफी अनुभव रहा है। इन्होंने अपने वनडे कैरियर की शुरुआत 9 अप्रैल 1998 में जिम्बाब्वे के खिलाफ की थी और अंतिम मैच 3 दिसम्बर 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था यानी लक्ष्मण ने इन 8 सालों में कुल 86 वनडे मैच खेले थे जिसमें कुल 2338 रन बनाए थे फिर भी एक भी मैच वर्ल्ड कप में नहीं खेल पाये थे।

टेस्ट में एक नजर
लक्ष्मण ने अपने टेस्ट कैरियर में कुल 134 मैचों में कुल 8781 रन बनाए थे जिसमें उन्होंने 17 शतक और 56 अर्धशतक मारे थे। इनके नाम टेस्ट में सर्वाधिक स्कोर 281 रन है।

वनडे एक नजर
लक्ष्मण ने अपने कैरियर में कुल 86 एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में कुल 2338 रन बनाए थे जिसमें इनके नाम शानदार 6 शतक भी लगाये थे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week