VYAPAM: लेबर इंस्पेक्टर भर्ती में भी गड़बड़ी, सामान्य वर्ग के पद आरक्षित से भर दिए

Tuesday, April 11, 2017

भोपाल। प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड कितनी भी निष्पक्षता और ईमानदारी के दावे करे, हर परीक्षा में कोई ना कोई धब्बा लग ही जाता है। हाल ही में घोषित हुए लेबर इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा के परिणामों के बाद भी विवाद शुरू हो गए हैं। अभ्यर्थी शेषनारायण दुबे ने दावा किया है कि व्यापमं ने सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के साथ धोखा करते हुए आॅडिटर की 4 पोस्ट पर आवेदन ही स्वीकार नहीं किए और पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों से इन पदों को भर दिया गया। 

अभ्यर्थी शेषनारायण दुबे ने अपनी शिकायत भोपाल समाचार डॉट कॉम को भेजी है। इसकी प्रतिलिपि डायरेक्टर एवं परीक्षा नियंत्रक प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड को भी भेजी गई है। अभ्यर्थी ने लिखा है कि 8 अप्रैल को घोषित लेबर इंस्पेक्टर सयुंक्त भर्ती परीक्षा परिणाम में 25वें क्रम में स्थित ऑडिटर की पोस्ट में अनियमितता की गयी है। व्यापमं की नियम पुस्तिका में इस पद में केवल 1 ही सीट थी जो की obc के लिए रिज़र्व थी। Obc के लिए रिज़र्व होने के कारण सामान्य प्रतिभागियों के लिए फॉर्म भरते समय इस पोस्ट को सेलेक्ट करने का ऑप्शन डिसेबल था। 

अर्थात सामान्य कैंडिडेट चाह कर भी फॉर्म नहीं भर पाये किन्तु घोषित रिजल्ट नोट में 4 पोस्ट सामान्य व 1 पोस्ट obc की हैं। आरोप ये है कि जब सामान्य वाले फॉर्म ही नहीं भर पाये तो रिजल्ट में जो चार लोग सेलेक्ट हुए हैं वे सामान्य के हो ही नहीं सकते क्योंकि उनके लिए तो इस पोस्ट का ऑप्शन ही क्लोज था। वैसे भी जब पोस्ट में कमी या वृद्धि की जाती है तो सामान्यतः इसकी नोटिस वेबसाइट में जारी की जाती है। लेकिन इस पोस्ट के लिए कोई नोटिस नहीं दी गयी जब की अन्य पोस्ट की नोटिस डाली गयी थी। अर्थात सामान्य की उन 4 सीट पर सभी को फॉर्म भरने का मौका देना चाहिए था। 

शेषनारायण दुबे का कहना है कि चूंकि अब रिजल्ट आ चुका है तो उस पोस्ट को मेरिट के अनुसार अलॉट करना चाहिए या फिर दोबारा च्वॉइस फिलिंग करवानी चाहिए ताकि सामान्य के साथ अन्याय न हो।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं