UP में मुलायम सिंह के मुश्किल दिन शुरू, IPS धमकी मामले की जांच तेज

Tuesday, April 11, 2017

नई दिल्ली। IPS अमिताभ ठाकुर को धमकी के मामले में अब सपा चीफ मुलायम सिंह यादव की मुश्किलें बढ़ने जा रहीं हैं। यूपी में सत्ता बदल चुकी है। अब इस मामले में जांच नए तरीके से चलेगी। पुलिस ​मुलायम सिंह की आवाज का नमूना जमा करेगी ताकि मिलान करके पता किया जा सके कि आईपीएफ अफसर को फोन पर जिसने धमकी दी थी वो आवाज मुलायम सिंह की ही थी या नहीं। 

आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के खिलाफ थाना हजरतगंज में दर्ज कराए गए मुकदमे में पुलिस जल्द ही अमिताभ और मुलायम सिंह की आवाज़ का नमूना लेगी। यह बात इस मामले के विवेचक सीओ कृष्णानगर दिनेश कुमार सिंह ने सीजेएम लखनऊ संध्या श्रीवास्तव के सामने प्रस्तुत अपनी रिपोर्ट में कही है।

मुलायम पर धमकी देने का आरोप
IPS अमिताभ ने 10 जुलाई 2015 को मुलायम सिंह द्वारा उन्हें फोन पर धमकी देने के संबंध में थाना हजरतगंज में मुकदमा दर्ज कराया था। हजरतगंज पुलिस ने इस मामले पर आनन-फानन में विवेचना करते हुए अक्टूबर 2015 में अंतिम रिपोर्ट लगा दी था।

अब तक नहीं हुई थी कार्रवाई
सीजेएम कोर्ट ने 20 अगस्त 2016 को विवेचक को मुलायम सिंह और अमिताभ की आवाज़ के नमूने प्राप्त कर विधि विज्ञान प्रयोगशाला से उसका परीक्षण किए जाने के आदेश दिए थे। अब तक पुलिस ने उस पर कोई कार्रवाई नहीं की थी।

चुनाव की वजह से कार्रवाई में देरी
अब सत्ता परिवर्तन के बाद मामले में विवेचक दिनेश सिंह ने 30 मार्च 2017 की अपनी रिपोर्ट में कोर्ट को बताया कि वे अब तक चुनाव ड्यूटी और अन्य तफ्तीश में व्यस्त होने के कारण इस मामले में कार्रवाई नहीं कर सके थे।

24अप्रैल को होगी मामले की अगली सुनवाई
अब जल्द ही बातचीत के कॉम्पैक्ट डिस्क का अध्ययन करते हुए दोनों पक्ष के आवाज का नमूना लिया जाएगा। सीओ की रिपोर्ट को संज्ञान में लेते हुए सीजेएम ने मामले में सुनवाई की अगली तारीखअप्रैल तय की है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं