MPPSC: गोलगप्पे वाले की बेटी अफसर बन गई

Friday, April 21, 2017

छिंदवाड़ा। शहर के छोटी बाजार में रहने वाले महेश सोनी की पहचान कल तक गोलगप्पे बेचने वाले एक छोटे से दुकानदार के रूप में थी, लेकिन अब महेश सोनी की बेटी मोनिका ने न सिर्फ उनका बल्कि पूरे जिले का नाम रोशन किया है। बुधवार रात जारी हुए एमपीपीएसी के रिजल्ट ने सोनी परिवार के चेहरे पर खुशियां ला दी। मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की एमपीपीएससी 2015 के रिजल्ट में चयनित सूची में सहायक संचालक वित्त के पद पर चयनित हुई हैं। उन्हें 1575 में से 951 नंबर मिले हैं।

इस उपलब्धि पर मोनिका के घरवाले काफी खुश हैं। ये सफलता मोनिका को कम लगती है, वो डिप्टी कलेक्टर बनना चाहती हैंं। उन्हें 2016 के एमपीपीएससी परीक्षा के साक्षात्कार के लिए भी बुलाया है, उन्हें उम्मीद है कि इस बार ये मुकाम भी हासिल कर लेंगी।

मोनिका का ये सफर आसान नहीं था, आर्थिक रूप से कमजोर परिवार, फिर भी हिम्मत और हौसला नहीं टूटा। जिस परीक्षा के लिए कोचिंग की जरूरत होती है, उस परीक्षा की तैयारी के लिए खुद ने कोचिंग पढ़ाकर पैसा जुटाया। मोनिका के पिता का कहना है कि मेरी बेटी ने मेरा नाम रोशन कर दिया, इससे ज्यादा अब मुझे कुछ नहीं चाहिए।

बीएससी से किया ग्रेजुएशन 
मोनिका सोनी ने स्कूली पढ़ाई आम छात्राओं की तरह ही की। 9 वीं तक सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में पढ़ाई की, इसके बाद नौवीं से 12 तक उत्कृष्ट विद्यालय में अध्ययन किया। गर्ल्स कॉलेज से बीएससी बायोलॉजी में अध्ययन किया। इसके साथ ही पीएससी की तैयारी शुरू कर दी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं