शिवराज सरकार की आरक्षण नीति के खिलाफ 300 डॉक्टरों का इस्तीफा

Tuesday, April 11, 2017

भोपाल। मप्र में शिवराज सिंह चौहान की सरकार का विरोध कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है। लगभग सभी वर्गों के कर्मचारी अधिकारी सरकार से नाराज हैं। आरक्षण यहां बड़ा मुद्दा बन गया है। प्रमोशन में आरक्षण मामले में शिवराज सरकार भारी विरोध का सामना कर रही है। इसी दौरान 300 डॉक्टरों ने इन-सर्विस लाभ/आरक्षण नीति में बदलाव के कारण इस्तीफा दे दिया। 

सतपुड़ा भवन के सामने धरना दे रहे डॉक्टर्स का कहना है कि यदि सरकार डॉक्टर्स विरोधी अपने फैसले में बदलाव नहीं करेगी तो वे बुधवार को पूरे प्रदेश में हड़ताल करेंगे। मध्यप्रदेश चिकित्सा अधिकारी संघ के बैनर तले प्रदर्शन कर रहे डॉक्टर्स ने मंगलवार को विधानसभा का घेराव भी किया। लेकिन, वहां पहले से मौजूद सुरक्षा बल ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। सुरक्षा बल ने प्रदर्शन कर रहे डॉक्टर्स को पुलिस वैन से कुछ दूरी पर ले जाकर छोड़ दिया।

क्या है मामला..
डॉक्टर्स का आरोप है कि, अब तक सरकार सर्विस के दौरान प्री-पीजी करने के लिए सभी एमबीबीएस डॉक्टर्स को समान लाभ देती थी। लेकिन, मप्र सरकार ने इस साल से उस नीति कई सारे बदलाव कर दिए है। इसका फायदा सभी को न होकर सिर्फ 89 जनजातीय बाहुल्य ब्लॉकों तक ही सीमित कर दिया गया है, जबकि इस बदलाव के कारण 245 ब्लॉक के डॉक्टर्स को नीति का लाभ नहीं मिल पाएगा। इससे नाराज 300 डॉक्टर्स ने मंगलवार को सामूहिक इस्तीफा देने की घोषणा की है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं