धौलपुर चुनाव में 18 मशीनें: बटन कोई भी हो, वोट बीजेपी का

Monday, April 10, 2017

नई दिल्ली। अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को एक बार फिर ईवीएम का मुद्दा उठाया। उन्होंने दावा किया कि राजस्थान के धौलपुर में जो उपचुनाव हुए, वहां 18 ईवीएम में गड़बड़ियां पाई गईं हैं और चुनाव आयोग इसकी जांच करने को बिल्कुल तैयार नहीं है। सीएम ने कहा कि चुनाव आयोग धृतराष्ट्र बन गया है जो सिर्फ अपने बेटे दुर्योधन को सत्ता में पहुंचाना चाहता है।

केजरीवाल ने कहा, "धौलपुर में जो बाईपोल हुए, उनमें 18 ईवीएम में चुनाव आयोग के मुताबिक गड़बड़ियां पाई गई। इन सभी 18 ईवीएम मशीनों में कोई भी बटन दबाओ, वोट बीजेपी को जा रहा था। इससे पहले भिंड में भी मॉक ड्रिल के दौरान एक ऐसी EVM पाई गई थी। तब EC ने कहा था कि मशीन में गड़बड़ी है, लेकिन हमने कहा था कि ईवीएम के साथ छेड़खानी की गई है। सॉफ्टवेयर, प्रोग्रामिंग, कोड इस तरह बदला गया है कि कोई भी बटन दबाओ, वोट बीजेपी को जाएगा।

रविवार को बिल्कुल ऐसी ही 18 मशीनें धौलपुर में पाई गई हैं जिनमें कोई भी बटन दवाओ, वोट बीजेपी को जाएगा। इसका मतलब यह है कि इन मशीनों का कोड बदला गया, प्रोग्रामिंग बदली गई। ये कोड किसने बदला, प्रोग्रामिंग कैसे बदली गई, इसकी जांच कराने को चुनाव आयोग बिल्कुल तैयार नहीं है।

राजस्थान की मशीनें दिल्ली क्यों आ रही हैं
केजरीवाल ने कहा, "अब तो यह शक होने लगा है कि ये सब चुनाव आयोग के इशारों पर तो नहीं हो रहा है। बड़ा खतरा ये नजर आ रहा है कि दिल्ली के एमसीडी चुनाव में जो मशीनें इस्तेमाल होने वाला है, उसके लिए मशीनें राजस्थान से आने वाली हैं। ये मशीनें राजस्थान से दिल्ली क्यों मंगाई जा रही हैं, जबकि वे दिल्ली में मौजूद हैं।

चुनाव आयोग बना धृतराष्ट्र
केजरीवाल ने कहा, "चुनाव आयोग एक तरह से धृतराष्ट्र बन गया है जो अपने बेटे दुर्योधन को किसी भी तरह साम-दाम-दंड-भेद करके सत्ता में पहुंचाना चाहता है। चुनाव आयोग का मकसद अब चुनाव कराना नहीं बल्कि बीजेपी को सत्ता में पहुंचाना है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week