ABVP नेता ने अवैध रिश्ता बनाए रखने लड़की के भाई को मार डाला

Saturday, March 18, 2017

टीकमगढ। शहर कोतवाली क्षेत्र सुनसान मामौन पहाडी के पास स्थित तलैया के किनारे बीती 8 मार्च की दरम्यानी रात में एक 25 वर्षीय युवक की नृशंस हत्याकांण्ड का खुलास करते हुये पुलिस ने आरोपियो को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मर्डर का मास्टर माइंड अभिषेक रिछारिया है, जो एबीवीपी का नेता भी है। इसी ने एक लड़की से जबरन अवैध रिश्ते बनाए रखने की कोशिश की और जब उसके भाई ने रोका तो उसका मर्डर करवा दिया। 

शहर कोतवाली क्षेत्र मामौन पहाडी के पास स्थित तलैया के किनारे सुनसान स्थान पर बीती 8 मार्च की दरम्यानी रात में 25 वर्षीय राकेश नामदेव की चाकुओं से गोद कर नृशंस हत्या कर दी थी। पुलिस ने बताया कि मऊचुंगी निवासी अभिषेक रिछारिया जो एबीवीपी का नेता भी है का राकेश नामदेव की बहन से बहुत पहले प्रेम प्रसंग था। सयानी होने पर राकेश के परिजनों ने युवती की शादी योग्य वर तलाशकर कर दी परंतु अभिषेक रिछारिया लगातार राकेश की बहन से सबंध बनाए रखने की कोशिश कर रहा था। इसी के चलते वो बार बार राकेश के घर भी आ जाता था। राकेश ने अभिषेक रिछारिया के इस कदम का विरोध किया। 

अभिषेक ने राकेश नामदेव को रास्ते से हटाने का षडयंत्र रच डाला। अभिषेक ने इसके लिए सुपारी किलर्स हायर किए। मऊचुंगी निवासी अतुल सिंह पुत्र रामवली सिंह को 25 हजार रूपये की सुपारी देकर राकेश नामदेव की हत्या करने की योजना बनाई। अतुलसिंह ने राकेश की हत्या करने के लिये अपने दोस्त राजा खान तथा नीलेश बाल्मीक का सहारा लिया। 8 मार्च घटना दिनांक को अतुल सिंह ने राजा खान को राकेश नामदेव को मामौन पहाडी के पास लाने को कहा। योजना के मुताबिक राजा खान, राकेश को सुनसान इलाके मामौन पहाडी के पास ले आया। जहॉ पर राजा खान और नीलेश बाल्मीक ने पकडा और अतुल सिंह ने चाकू के कई वार कर उसकी हत्या कर दी। 

पुलिस ने हत्या में लिप्त आरोपियो अतुल सिंह, अभिषेक रिछारिया, नीलेश बाल्मीक, राजा खान के खिलाफ धारा 302,120 बी,24 आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज कर अभिषेक रिछारिया, नीलेश बाल्मीक , राजा खान को जेल भेज दिया अभी अतुल सिंह एक आरोपी फरार है। जिसकी गिरफ्तारी हेतू पुलिस अधीक्षक ने 10 हजार रूपये का इनाम घोषित किया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं