व्यापमं की अजीब शर्त: CPCT/DPI डिप्लोमा में 30 शब्द प्रति मिनट चाहिए - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

व्यापमं की अजीब शर्त: CPCT/DPI डिप्लोमा में 30 शब्द प्रति मिनट चाहिए

Monday, November 14, 2016

;
भोपाल। प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड द्वारा आयोजित 4200 तृतीय श्रेणी कर्मचारियों की भर्ती परीक्षा में अजीब सी शर्त रख दी है। व्यापमं ने अभ्यर्थियों से डीपीआई और सीपीसीटी का डिप्लोमा मांगा है परंतु टाइपिंग स्पीड 30 शब्द प्रति मिनट मांगी है। समस्या यह है कि डीपीआई 25 शब्द और सीपीसीटी 20 शब्द की स्पीड वालों को डिप्लोमा जारी करती है। 30 मिनट वाला डिप्लोमा कहां से ले आएं। 

क्या है मामला 
प्रदेश के सभी जिला कलेक्टोरेट समेत अन्य विभागों में सहायक ग्रेड-3, स्टेनोटाइपिस्ट, स्टेनोग्राफर, डाटा एंट्री ऑपरेटर के चार हजार पद भरे जाना हैं। इसके लिए 7 नवंबर से फॉर्म भरे जा रहे हैं। यह परीक्षा 18 दिसंबर 2016 काे आयोजित होनी है। भर्ती नियमों के हिसाब से बोर्ड ने सहायक ग्रेड 3 के लिए आवेदकों से 30 शब्द प्रति मिनट टाइपिंग गति का प्रमाण पत्र मांगा है, जबकि मप्र शीघ्रलेखन व मुद्रलेखन परीक्षा परिषद 25 शब्द प्रति मिनट की गति का प्रमाण पत्र देती है। 

जांच कर निर्णय लेंगे 
बोर्ड के अधिकारियों से बात की, तो उनका कहना था कि मामले की जांच कर शीघ्र निर्णय किया जाएगा। गौरतलब है कि मप्र शीघ्रलेखन व मुद्रलेखन परीक्षा 2012 में बंद कर हो गई थी, लेकिन परिषद का टाइपिंग डिप्लोमा सभी लिपिकीय परीक्षाओं के लिए मान्य है। परिषद द्वारा प्रमाण पत्र प्राप्त छात्र किसी भी परीक्षा में शामिल हो सकता है। ( पढ़ते रहिए bhopal samachar हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)
;

No comments:

Popular News This Week