डील फाइनल: चीन के ड्रेगन को टारगेट पर लेंगी अमेरिकन हॉवित्जर तोपें

Wednesday, November 30, 2016

भारतीय सेना की ताकत में जल्द ही इजाफा होने वाला है. सरकार ने सेना के लिए 145 एम 777 अल्ट्रा लाइट हॉवित्जर तोपों के लिए अमेरिका से डील साइन कर ली है. इनका इस्तेमाल चीन के मोर्चे पर किया जाएगा.

भारत सरकार ने अमेरिका के साथ तोपों की डील साइन कर ली है. यह डील भारत-अमेरिका मिलिटरी कोऑपरेशन ग्रुप की बुधवार को दिल्ली में हुई मीटिंग में साइन हुई है. सूत्रों के मुताबिक सौदे की कीमत 5,000 करोड़ रुपए होगी. 145 में से 120 तोपों को भारत में असेंबल किया जाएगा, जबकि 25 तोपें तैयार अवस्था में ही मिलेंगी. माना जा रहा है कि चीन के मोर्चे पर इनकी तैनाती होगी.

स्मार्ट होगी एलओसी, नहीं होगी सैनिकों की जरूरत
सूत्रों का कहना है कि बोफोर्स को बीएई सिस्टम्स ने खरीद लिया है जिसकी अमेरिका सबसिडियरी भारत में महिंद्रा के साथ मिलकर हॉवित्सर तोपों की सप्लाई के लिए काम करेगी. शुरुआती दो तोपों की सप्लाई में छह महीने लगेंगे और उसके बाद हर महीने दो तोपों की सप्लाई की जाएगी. गौरतलब है कि अस्सी के दशक के मध्य में बोफोर्स घोटाला सामने आने के बाद से भारत में तोपखाने का मॉडर्नाइजेशन थमा हुआ है. बोफोर्स के बाद से यह पहला तोप सौदा है.

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं