मंदी के वक्त कालाधन ही काम आता है: अखिलेश यादव

Tuesday, November 15, 2016

;
लखनऊ। देश में पांच सौ तथा हजार के नोट बंद होने पर हो रही परेशानी के बाद कालेधन को लेकर यूपी के मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव का बयान आया है। अखिलेश ने नोटबंदी के बाद देश में बनी स्थिति को लेकर कहा है कि मंदी के दौर में कालाधन अर्थव्‍यवस्‍था को बचाता है। पत्रकारों से बात करते हुए उन्‍होंने सरकार पर भी निशाना साधा और कहा कि जो सरकार जनता को परेशान करती है उसे जनता हटा देती है। नोटबंदी लागू करने से पहले पूरी तैयारी की जानी चाहिए थी।

इसके अलावा अखिलेश ने इशारों-इशारों में बहुजन समाज पार्टी की मुखिया पर तंज कसा है। अपने सरकारी आवास से मैत्री कार रैली को रवाना करने आए मुख्‍यमंत्री ने कहा कि देश में हजार व पांच सौ रुपये का नोट बंद होने के कारण लोगों को तो तकलीफ हो रही है, लेकिन सबसे अधिक तकलीफ बुआजी (मायावती) को हो रही है।

अखिलेश ने कहा कि बुआजी को हजार रुपये के नोट की माला पहनने का बहुत शौक है। अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हजार व पांच सौ रुपये का नोट बंद करके बुआजी के शौक पर अंकुश लगाने का काम किया है। यह ठीक नहीं है।

अखिलेश का मानना है कि देश में पांच सौ तथा हजार रुपये का नोट बंद होने से लोगों को तकलीफ है। इसको लेकर उत्तर प्रदेश सरकार बेहद संजीदा है। हम लोग ग्रामीण क्षेत्रों में मोबाइल कैश वैन भेजने की व्यवस्था में लगे हैं।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जो सरकार जनता को दु:ख देती है जनता उसको हटा देती है। अब रुपया न मिलने के कारण जनता तो दुखी है। मुख्यमंत्री ने कहा समाजवादी लोग काला धन और भ्रष्टाचार के खिलाफ है। कभी कुछ बुद्धजीवी और कभी अर्थशास्त्री कहते है की कालाधन की इकॉनामी बहुत मजबूत है। ( पढ़ते रहिए bhopal samachar हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week