टीकमगढ़ में भूख से वृद्ध की मौत, बिना पीएम अंत्येष्ठी

Monday, November 28, 2016

;
टीकमगढ़। मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले में एक बुजुर्ग की भूख से मौत का मामला सामने आया है। जिले के प्रभारी मंत्री रुस्तम सिंह ने जिला प्रशासन से इस मामले की जांच कर रिपोर्ट पेश करने को कहा है। जतारा थाने के पटरा गांव निवासी लखन दुबे (70) का शनिवार को घर के भीतर शव मिला। वह अकेले रहते थे और गांव के लोगों से मांगकर किसी तरह पेट भरते थे।

ग्रामीणों के अनुसार, वह पिछले 10 दिनों से घर से बाहर नहीं निकले थे। शनिवार को उनके घर के भीतर से कोई आवाज नहीं आई तो शक हुआ। भीतर जाने पर वे मृत पड़े दिखे थे।

गांव के कौशल किशोर ने कहा कि इस बात की आशंका है कि लखन की मौत भूख से हुई है, क्योंकि उन्होंने कई दिनों से लोगों से पेट भरने के लिए खाना नहीं मांगा था। वह अविवाहित थे। परिवार के अन्य सदस्य रोजगार के लिए बाहर गए हुए हैं। उनके पास जमीन भी नहीं है।

लखन की मौत की सूचना गांववालों ने पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पोस्टमार्टम कराए बगैर उनका अंतिम संस्कार कर दिया। जिले के दौरे पर आए प्रभारी मंत्री रुस्तम सिंह से रविवार को संवाददाताओं ने भूख से मौत को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लगभग 75 प्रतिशत आबादी को एक रुपये किलोग्राम की दर से खाद्यान्न दे रही है। यह प्रश्न है कि वह व्यक्ति इस लाभ से कैसे वंचित रह गया। वह इस मामले की जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से जांच कराएंगे। पुलिस अधीक्षक निमिश अग्रवाल ने बताया कि गांव जाकर वास्तविकता का पता लगाने के लिए अधीनस्थ अफसरों को निर्देश दिये हैं।
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week