भोपाल में बदल रही है करोड़ों की काली करेंसी, तस्करों के पास है करोड़ों के नए नोट

Wednesday, November 23, 2016

;
भोपाल। क्राइम ब्रांच भोपाल ने नए नोटों की तस्करी करने वाले दो युवकों को बैरागढ़ स्थित चंचल चौराहे से गिरफ्तार किया है। दोनों युवक पेशे से बिजनेसमैन है। युवकों के पास से पुलिस ने 7,46,500 रुपए जब्त किए हैं। जब्त किए सारे नोट दो-दो हजार के हैं।

क्राइम ब्रांच भोपाल को मुखबिर से मिली जानकारी के अनुसार, दो लड़के एक स्विफ्ट कार में पैसे लेकर बैरागढ़ के पास काफी देर से खड़े थे। दोनों युवक पैसे लेकर सीहोर जाने वाले थे। इससे पहले की युवक सीहोर के लिए रवाना होते क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचे दोनों युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। तलाशी के दौरान पुलिस ने गाड़ी में 7,46,500 रुपए के नए नोट जब्त किए हैं।

गिरफ्तार आरोपी में से एक का नाम जतिन दरयानी (31) पिता प्रेमचंद्र दरयानी निवासी शिखर प्लाजा बैरागढ़ व दूसरे का नाम प्रदीप खिलवानी (27) पिता स्व. भाग्यचंद्र खिलवानी निवासी लालघाटी है। आरोपी जतिन दरयानी बैरागढ़ में एक जाना-माना रेस्टोरेंट चलता है। वहीं, प्रदीप खिलवानी की न्यू मार्केट में रेडीमेड गारमेंट की शॉप चलाता है।

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्हें ये रुपए उनके दोस्त आशीष रजानी ने सीहोर पहुंचाना के लिए कहा था। इसके बदले में आशीष उनको 10-10 हजार रुपए कैश देने वाला था। पूछताछ में आरोपियों ने यह भी बताया कि आशीष रजानी बैरागढ़ में बड़े स्तर पर पुराने नोटों को बदलकर नए नोट देने का धंधा चला रहा है। 10 लाख के पुराने नोटों के बदले में वह लोगों को 7,80,000 रुपए के नए नोट देता है। क्राइम ब्रांच ने इसकी जानकारी आयकर विभाग को देते हुए आशीष की तलाश शुरू कर दी है।
;

No comments:

Popular News This Week