500-1000 के नोट बंद करने का आइडिया मोदी का नहीं, इनका था

Wednesday, November 9, 2016

भोपाल। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार शाम अचानक देश को संबोधित किया और 500-1000 के नोट बंद कर दिए। केंद्र सरकार की ओर से बताया गया है कि इसके बारे में सिर्फ 6 लोगों को ही पता था परंतु मप्र के एक सांसद रोडमल नागर ने दावा किया है कि ये आइडिया उनका था। 

आज यहां जारी एक प्रेस बयान में सांसद रोडमल नागर ने कहा है कि इस मामले को सांसद के नाते मैने 09 मई को लोकसभा में उठाया था। सरकार से बड़े नोटो को बंद करने का आग्रह किया था। सरकार ने देश के हित में तमाम हित और लाभ का मूल्यांकन करके यह स्वागत योग्य कदम उठाया है, इसका में तहेदिल से स्वागत करता हूं। इसके कारण देश को लंबे समय से कई स्तर पर कीमत चुकानी पड़ रही थी।

कौन हैं रोडमल नागर
रोडमल नागर राजगढ़ लोकसभा क्षेत्र के पचोर इलाके के रहने वाले हैं। भाजपा के कार्यकर्ता है। पिछले लोकसभा चुनाव में पहली बार उन्हे बतौर प्रत्याशी उतारा गया था। यह इलाका दिग्विजय सिंह का गढ़ कहा जाता है परंतु मोदी लहर कुछ इस तरह चली कि रोडमल नागर जीत गए। इसके अलावा उनके बारे में कोई खास जानकारी नहीं मिलती है। उन्होंने अपनी फेसबुक पर भी अपने बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं कराई है। बस इतना लिखा है कि दिसम्बर 15, 1960 को उनका जन्म हुआ था। ( पढ़ते रहिए bhopal samachar हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week