पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के संविदा कर्मचारी नियमित होंगे

Monday, October 10, 2016

;
भोपाल। मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने बताया कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग में कार्य करने हजारों संविदा कर्मचारियों को पदअनुरूप नियमित करने के लिए एक कमेटी का गठन कर दिया गया है। यह कमेटी नियमितीकरण सहित कर्मचारियों की अन्य समस्याओं का निराकरण भी करेगी। नियमितीकरण के लिए पदअनुरूप विभागों में रिक्त पदों की जानकारी भी देगी जिस पर संविदा कर्मचारियों का नियमितीकरण किया जा सकेगा। 

इस कमेटी में विकास आयुक्त कार्यालय,पंचायत राज संचालनालय, बीआरजीएफ, आरईएस, मनरेगा ,टीएससी, वाटरशेड, वाल्मी, एमडीएम, एसआईआरडी, एसआरएलएम, आरआरडीए, सभी विभागों के स्थापना शाखा के प्रभारियों को सदस्य बनाया गया है। इस सेल के के हैड मुख्य समन्व्यक अतिरिक्त संचालक स्थापना विकास आयुक्त कार्यालय को बनाया गया है। मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने इस कमेटी के गठन को पंचायत एवं ग्रामीण विभाग के अधिकारियों का सराहनीय प्रयास बताते हुये कहा कि महासंघ विगत कई वर्षो से पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग सहित समस्त विभागों के समस्त संविदा कर्मचारियों को नियमित करने के लिए अनेक वर्षो से लगातार सड़कों पर आंदोलन कर रहा था तथा मुख्यमंत्री, मंत्री, तथा म.प्र. शासन के विभिन्न अधिकारियों को ज्ञापन दे रहा था। 

महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने कहा है कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा अपने यहां के संविदा कर्मचारियों के लिए उठाये गये इस कदम से अन्य विभाग के उच्च अधिकारी भी संविदा कर्मचारियों को नियमित करने के लिए पहल करेंगें। जिससे प्रदेश में संविदा कर्मचारियों के साथ किये जा रहे असमानता तथा शोषण के व्यवहार से मुक्ति मिलेगी। 
;

No comments:

Popular News This Week