ये कमसिन हसीना नहीं, शातिर बदमाश गोल्डी है, पढ़िए कहानी

Saturday, September 24, 2016

नईदिल्ली। बिहार में पुलिस की छापामारी के दौरान पकड़े गए एक बदमाश ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। वो किसी भी सरकारी दस्तावेज में बड़ी आसानी से हेरफेर कर देता था और ऐसा कि किसी को पता भी नहीं चलता था। इसके अलावा शराब कीतस्करी भी किया करता था। पुलिस से बचने के लिए महिला का भेष धर लेता था ओर कोई उसे पहचान तक नहीं पाता था। कई बार पुलिस ने उसी से उसके घर का पता पूछा। वो महिला भेष में था इसलिए पुलिस पहचान ही नहीं पाई। 

सुल्तानगंज इलाके के रानीघाट लेन से गिरफ्तार अविनाश उर्फ गोल्डी नामक इस शातिर को पुलिस ने रेड के दौरान गिरफ्तार किया। गुप्त सूचना के आधार पर एसएसपी मनु महाराज के नेतृत्व में पुलिस ने जब उसके घर में छापेमारी की तब वहां प्रिंटर और स्कैनिंग मशीन देखकर चौंक गयी। इसके बाद जब गोल़्डी ने पूरी कहानी बतायी तो पुलिस भी चकित रह गई।

पूछताछ करने पर आरोपी ने स्वीकार किया कि वह फर्जी तरीके से सर्टिफिकेट, वोटर आईडी, आधार कार्ड का स्कैनिंग करता था और पूर्व के नाम को मिटा कर नया नाम जोड़ने का काम करता था। एसएसपी मनु महाराज के अनुसार वह महिला वेश इसलिए धारण करता था ताकि कोई उसे पकड़ न सके। पुलिस ने उसके घर से दस हजार रुपये नगद और शराब की पांच बोतले भी बरामद की है। पुलिस ने उसके मोबाइल से कई फोटो बरामद किया है जिसमें वो खूबसूरत औरत बना हुआ है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week