POK में लोकसभा एवं विधानसभा सीटों का बंटवारा होना चाहिए: निशिकांत दुबे

Wednesday, August 17, 2016

नई दिल्ली। झारखंड के गोड्डा से भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने एक बार फिर अधिकृत कश्मीर (पीओके) से विधानसभा और लोकसभा का प्रतिनिधित्व का मुद्दा उठाया। केंद्र सरकार के बदले रवैये और प्रधामनंत्री के हालिया बयान के बाद अब दोबारा से यह मांग उठने लगी है। उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि सरकार पीओके और गिलगित बालिस्तान से लोकसभा सीटों की घोषणा वाला बिल लोकसभा में प्रस्तुत करे।

निशिकांत दुबे ने पहली बार पीओके को लेकर 2 नवंबर, 2014 और 15 फरवरी, 2015 को भी प्राइवेट बिल पेश करते हुए मांग की थी कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) से लोकसभा में 5 सीटें और विधानसभा में 24 सीटें होनी चाहिए। इसके लिए उन्होंने बकायदा गृहराज्य मंत्री किरण रिजीजू और लोकसभा उपाध्यक्ष से भी मुलाकात की थी।

निशिकांत दुबे ने मीडिया से बात करते हुए आज कहा कि 1952 में हमसे जो भूल हुई अब उसे सुधारने का प्रयास करेंगे और पीओके के लोगों को कैसे न्याय मिले इसका प्रयास किया जाएगा। मुझे यकीन है कि अब वो दिन आ गया है जब सरकार वो बिल लेकर आएगी।

दुबे ने बताया कि दुनिया को यह बताने का सही समय है कि कैसे पाकिस्तान पीओके के लोगों पर अत्याचार कर रहा है। उन्होंने कहा कि जब पीएम कहते हैं कि अब केवल पीओके पर बात होगी तो मेरी प्राइवेट बिल वाली बात को और बल मिलता है।

निशिकांत दुबे ने कहा कि पहले लोग लाल चौक पर तिरंगा फहराना चाहते थे लेकिन अब मुजफ्फराबाद में तिरंगा फहराया जाएगा और इसे पाक के अवैध कब्जे से मुक्त कराया जाएगा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week