MA Convent School: 1984 से आज तक नहीं हुआ राष्ट्रगान का गायन

Sunday, August 7, 2016

इलाहाबाद। एमए कान्वेंट स्कूल में कभी राष्ट्रगान 'जन गण मन' का गायन नहीं होता। स्कूल स्टाफ ने कहा था कि स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर गायन होना चाहिए तो प्रबंधन ने साफ इंकार कर दिया साथ ही मांग करने वालों को इस्तीफा देकर जाने को भी कहा। icbse से मिल रही जानकारी के अनुसार यह स्कूल 1984 से संचालित हो रहा है और तब से आज तक यहां राष्ट्रगान का गायन नहीं हुआ। स्कूल में कुल 12 टीचर्स हैं जिनमें से 8 ने इस्तीफा दे दिया है। School Head Master का नाम Pratma Kumari दर्ज है। 

एमए कान्वेन्ट स्कूल के मैनेजर का कहना है कि राष्ट्रगान में 'भारत भाग्य विधाता' के 'भारत' शब्द से उन्हें आपत्ति है जब तक राष्ट्रगान में इस पंक्ति में भारत नहीं हटाया जाता वह स्कूल में राष्ट्रगान गाने नहीं देंगे। मामला आला अफसरों तक पहुंच गया है।

शिक्षकों ने बताया कि स्कूल में 15 अगस्त की तैयारियां चल रही थीं। बैठक में सभी शिक्षकों ने राय रखी कि राष्ट्रगान होना है। इस पर स्कूल प्रबंधन ने कहा कि राष्ट्रगान आज तक हमारे यहां नहीं हुआ और अब भी नहीं होगा। कारण पूछा तो कहा कि उसमें एक लाइन आती है 'भारत भाग्य विधाता' जो हमारे धर्म के खिलाफ है। भारत हमारे भाग्य का विधाता कैसे हो सकता है? इतना ही नहीं, शिक्षकों का कह दिया गया कि आप चाहें तो नौकरी छोड़कर जा सकते हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं