चैक कर लीजिए कहीं आपका बीमा भी तो फर्जी नहीं है

Thursday, August 25, 2016

नईदिल्ली। यूपी पुलिस ने नोएडा सेक्टर-63 में संचालित एक फर्जी बीपीओ पर छापामार कार्रवाई कर 53 कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है। यहां से लोगों को फर्जी बीमा बेचा जाता था। शुरूआती जांच में पता चला है कि 1000 लोगों से 5 करोड़ की ठगी की गई है। ग्राहकों को बोनस का झांसा देकर जाल में फंसाया जाता था। इसके बाद इंश्योर वेंचर प्राइवेट लिमिटेड, एमएस सल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड, मैक्स न्यू सल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड या सिटी सर्विस प्राइवेट लिमिटेड के खाते में पैसे मंगाए जाते थे। यदि आपने भी इन कंपनियों में से किसी एक में पैसे डिपॉजिट कराए हैं तो तत्काल पुलिस से संपर्क कीजिए। आप भी ठगी का शिकार हो चुके हैं। 

नोएडा पुलिस को जब इस फर्जीवाड़े की सूचना मिली तो पुलिस के आला अधिकारी भी करोड़ों रूपये की इस ठगी से हैरान रह गए। पुलिस ने फौरन एक एसआईटी का गठन कर मामले की जांच टीम को सौंप दी। स्पेशल टीम ने पुख्ता तौर पर कर्मचारियों के बारे में जानकारी जुटाई। सभी के गोवा में होने की सूचना पर टीम ने गोवा में मस्ती करते हुए सभी कर्मचारियों को हिरासत में ले लिया।

जांच में पता चला कि ये कंपनी खासकर ऐसे रिटायर बुजुर्गों को अपना निशाना बनाती थी​ जिन्होंने पहले से बीमा ले रखा है। फिर बोनस के नाम पर उन्हें अपनी प्रचलित बीमा पॉलिसी बंद कर नई पॉलिसी बेच दी जाती थी। बोनस में लालच में व्यक्ति समझ ही नहीं पाता था कि उसके साथ ठगी हो रही है। 

बता दें कि आरोपी कर्मचारियों ने महज तीन महीने में लोगों को झांसा देकर पांच करोड़ रुपये की काली कमाई कर ली थी। कंपनी ने इन सभी कर्मचारियों को इनकी ठगी की मेहनत से नवाजते हुए इन्हें मौज-मस्ती करने के लिए गोवा भेज दिया था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week