दिग्विजय सिंह ने मोहन भागवत को महिला विरोधी बताया

Monday, August 22, 2016

नईदिल्ली। कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को महिला विरोधी बताया है। उन्होंने एक ट्वीट में लिखा है, "मोहन भागवत जी ये तो ख़ैर मनाइये कि महिलाओं ने ओलंपिक खेलों में भारत की लाज रख ली, यदि आपका बस चले तो उन्हें चूल्हा चक्की से बाहर ही ना आने दो।"

याद दिला दें कि आगरा में एक सभा को संबोधित करते हुए मोहन भागवत ने कहा था 'अगर पत्नी घर का काम-काज नहीं संभाल सकती तो पति को चाहिए कि वो उसे छोड़ दे।' दिग्विजय सिंह ने रियो ओलंपिक में पीवी सिंधु और साक्षी मलिक के मेडल जीतने का ज़िक्र करते हुए ट्वीट किया, "मोहन भागवत जी ये तो ख़ैर मनाइये कि महिलाओं ने ओलंपिक खेलों में भारत की लाज रख ली, यदि आपका बस चले तो उन्हें चूल्हा चक्की से बाहर ही ना आने दो."

मोहन भागवत ने ये भी कहा था कि भारत में मुसलमानों की जनसंख्या वृद्धि दर ज़्यादा है और वो एक दिन हिंदुओं से ज़्यादा हो जाएंगे। भागवत ने ये भी कहा था कि हिंदुओं को ज़्यादा बच्चा पैदा करने से कौन सा क़ानून रोकता है?

जिसके जवाब में दिग्विजय सिंह ने लिखा, "मैं आरएसएस के किसी भी कार्यकर्ता को इस मुद्दे पर बहस की दावत देता हूं. मुसलमानों की संख्या, हिंदुओं से ज़्यादा कभी नहीं हो सकती क्योंकि मुस्लिम जनसंख्या वृद्धि दर भी घटी है.।" दिग्विजय सिंह ने ये भी लिखा कि जनसंख्या वृद्धि दर ग़रीबी पर निर्भर करती है ना कि धर्म विशेष पर। आरएसएस और भाजपा राजनीतिक लाभ के लिए अफ़वाह फैला रहे हैं।

भागवत खुद 10 बच्चे पैदा करके दिखाएं 
इस बीच, आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी भागवत के बयान की निंदा की है। केजरीवाल ने ट्वीट किया, "हिंदुओं को भड़काने के पहले भागवत जी ख़ुद 10 बच्चे पैदा करके उनकी अच्छी परवरिश करके दिखाएं।"

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं