मोदी के सांसद मोदी की बात नहीं मानते

Monday, August 8, 2016

;
नईदिल्ली। लोकसभा और राज्यसभाओं में बैठे वो तमाम सांसद जिनमें से बहुत सारे मोदी की कृपा से ही सांसद हैं, मोदी की बात नहीं मानते। मोदी की उन तमाम योजनाओं में तो वो बढ़ चढ़कर भाग लेते हैं जिनमें उन्हे लोकप्रियता मिले या फायदा हो परंतु मोदी की 'स्वर्ण मुद्रीकरण योजना' में भारत के एक भी सांसद ने एक तौल सोना तक जमा नहीं कराया है। इस योजना में अब तक 2000 किलो से ज्यादा सोना जमा हो चुका है और सांसदों के पास 710 किलो सोना है, जो उनके घरों में रखा है। 

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक, लोकसभा और राज्यसभा सांसदों के चुनाव पूर्व दिए गए हलफनामे के मुताबिक इनके पास कुल मिलाकर 710 किलो सोना है, लेकिन अभी तक इनमें से किसी ने भी सरकार की स्वर्ण मुद्रीकरण योजना में निवेश नहीं किया है। सवाल यह है कि जब सरकार में बैठे बीजेपी के विधायक और सांसद ही मोदी की बात नहीं मानते तो आम जनता से क्या उम्मीद की जानी चाहिए। 

देश में 20 हजार टन से ज्यादा सोना
सरकार के मुताबिक देश में 20 हजार टन से भी ज्यादा सोना मौजूद है लेकिन फिर भी सोने के प्रति लोगों के आकर्षण में कोई कमी नहीं आ रही। सोने की इस आकर्षण के कारण देश में बड़ी मात्रा में सोने का आयात होता है।

1 साल में 26 प्रतिशत रिटर्न दिया 
​जून 2103 में 400 टन सोने का आयात हुआ था जो हमारी कुल जीडीपी का 4.9 प्रतिशत था। सरकार ने बढ़ते सोने के आयात से बढ़ते वित्तीय घाटे को देखते हुए सोने पर 10 प्रतिशत ड्यूटी बढ़ा दी थी। बीते 12 महीनों में सोने की कीमत में 26 प्रतिशत का इजाफा हो चुका है।

सिर्फ तिरुपति बालाजी मंदिर ने बढ़ाया कदम 
16 मई को वित्त मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आकड़ों के मुताबिक इस योजना में अभी तक 2,891 किलो सोना जमा हुआ हैं, जिसमें से आधे से ज्यादा सोना भारत के सबसे धनी मंदिर तिरुपति बालाजी मंदिर ने जमा किए है। अप्रैल में, बालाजी मंदिर का वित्तीय प्रबंधन देखने वाले तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम ने 1,311 किलो सोना जमा किया था। इसके अलावा यह योजना की शुरुआत अभी तक मंद गति से ही चल रही है।

अभी जल्दबाजी होगी 
कांग्रेसी सांसद अभिषेक मनु सिंघवी और उनकी पत्नी के पास कुल मिलाकर 24 किलो सोना है, लेकिन जब उनसे इस योजना में निवेश के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'मैंने अभी तक इस योजना में निवेश नहीं किया है क्योंकि इस योजना में अभी निवेश करना जल्दबाजी होगी। मैंने इसके बारे में सिर्फ सुना है।
;

No comments:

Popular News This Week