MP NEWS - 5 जिलों के 83 कॉलेज DAVV से अलग हो जाएंगे, 25000 से ज्यादा विद्यार्थी प्रभावित होंगे

Devi Ahilya Vishwavidyalay Indore से संबद्ध पांच जिलों के 83 कॉलेज अगले साल देवी अहिल्या विश्वविद्यालय से अलग हो जाएंगे। इन कॉलेज में 25000 से ज्यादा विद्यार्थी पढ़ते हैं। उनकी मार्कशीट पर अब देवी अहिल्या विश्वविद्यालय नहीं लिखा होगा, क्योंकि सरकार ने एक नए विश्वविद्यालय को सैद्धांतिक स्वीकृति प्रदान कर दी है। 

क्रांतिसूर्य टंटया भील विश्वविद्यालय की अधिसूचना अगले सप्ताह

मुख्यमंत्री कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, यह विश्वविद्यालय खरगोन में स्थित होगा। शासकीय स्नातकोत्तमर महाविद्यालय खरगोन के अर्थशास्त्र के प्राध्यापक डॉ. जी.एस. चौहान को वर्तमान कर्त्तव्यों के साथ विश्वविद्यालय के कुलसचिव का अतिरिक्त कार्यभार सौपने संबंधी आदेश भी जारी कर दिये है। अगली कैबिनेट मीटिंग में विश्वविद्यालय के प्रस्ताव का अनुमोदन कर दिया जाएगा एवं चालू विधानसभा सत्र में इसे पारित करके, नवीन विश्वविद्यालय अधिसूचित कर दिया जाएगा। कुल मिलाकर अगले 7 दिन में मध्य प्रदेश में एक नया विश्वविद्यालय अस्तित्व में आ जाएगा। 

कितने जिलों की कॉलेज DAVV से अलग होकर KSTB विश्वविद्यालय में शामिल होंगे

मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव के सचिवालय से बताया गया है कि, क्रांतिसूर्य टंटया भील विश्वविद्यालय खरगोन के क्षेत्राधिकार में 5 जिले रहेंगे। इसमें खरगोन, बड़वानी, खण्डवा, बुरहानपुर तथा अलीराजपुर जिले के 83 महाविद्यालय सम्बद्ध होंगे। उपरोक्त जिलों के उक्त महाविद्यालय देवी अहिल्या विश्वविद्यालय इंदौर की संबद्धता से मुक्त होंगे। इन सरकारी कॉलेज में कुल 25500 विद्यार्थी पढ़ते हैं। 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !