Loading...

अन्ना नगर से ITI तक सड़क अब ऐसी ही रहेगी | BHOPAL NEWS

भोपाल। बारिश के दौरान गड्ढा-गड्ढा हो गई भेल की अन्ना नगर से आईटीआई रोड फिलहाल ठीक होने वाली नहीं है। भेल ने इस सड़क की मरम्मत करने से इंकार कर दिया है। उसका कहना है कि जब सड़क का उपयोग नगरनिगम कर रहा है तो मरम्मत भी वही करे। इतना ही नहीं भेल प्रबंधन ने कह दिया है कि भेल उन सड़कों को नहीं बनाएगा, जहां भोपाल सिटी लिंक लिमिटेड (बीसीएलएल) की वाॅल्वो सहित पब्लिक ट्रांसपोर्ट के दूसरे वाहन गुजर रहे हैं।

भेल टाउनशिप की सभी सड़कें खराब हो गईं हैं

कभी स्मार्ट सिटी के रूप में पहचान बनाने वाली भेल टाउनशिप की सड़कें आज पूरी तरह से उखड़ चुकी हैं। सबसे खराब हालत अन्ना नगर से आईटीआई तक 1.75 किलोमीटर लंबी सड़क की है, जहां सिर्फ गड्ढे हैं। इन गड्ढों में भी ईंट के टुकड़े डालने से यह जानलेवा हो गई है। पिपलानी गुरुद्वारे के सामने बरखेड़ा चौराहे से फाउंड्री गेट तक भी सड़क उखड़ चुकी है। आधा किलोमीटर लंबी इस सड़क के गड्‌ढों में भी भेल प्रशासन ने ईंट के टुकड़े भर दिए। टाउनशिप में 172 किलोमीटर लंबी सड़कें बिछी हुई हैं। उनके पैंचवर्क के लिए भेल ने एक माह पहले 60 लाख रुपए का वर्क ऑर्डर जारी किया गया, लेकिन इसका काम भी आज तक शुरू ही नहीं हुआ। यह पैचवर्क भी अन्ना नगर से आईटीआई तक की सड़क पर नहीं होंगे।

BHEL को BCLL की बसों पर आपत्ति

इस बारे में भेल के एजीएम राघवेंद्र शुक्ला का कहना है कि अन्ना नगर से आईटीआई तक की सड़क का उपयोग नगर निगम की कंपनी भोपाल सिटी लिंक लिमिटेड (बीसीएलएल) की वाॅल्वो सहित दूसरे बड़े वाहन कर रहे हैं। इसलिए इन सड़कों को उन्हें ही सुधारना होगा। वाॅल्वो के निकलने पर सड़क खराब होने की शिकायत पूर्व मुख्यमंत्री स्व. बाबूलाल गौर से दो साल पहले की थी। उन्होंने रोक भी लगा दी थी।