Loading...

CHHINDWARA में सब इंजीनियर त्रिपाठी को कारण बताओ नोटिस | MP NEWS

छिन्दवाड़ा। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री भरत यादव द्वारा आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन करने पर उपयंत्री श्री त्रिपाठी को कारण बताओ नोटिस दिया गया है। वाट्सअप ग्रुप में राजनैतिक पोस्ट शेयर करने पर जनजातीय कार्य विभाग के उपयंत्री श्री राम अवतार त्रिपाठी को निर्वाचन निर्देश पुस्तिका 2.1 के विपरीत और म.प्र.सिविल आचरण नियम 1965 के नियमों के विरूद्ध कृत्य होने तथा आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन करने पर उपयंत्री श्री त्रिपाठी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है तथा 24 घंटे के भीतर तथ्यात्मक प्रति उत्तर प्रस्तुत करने के निर्देश दिये गये है। समयावधि में उत्तर प्रस्तुत नहीं करने पर संबंधित के विरूद्ध एक पक्षीय अनुशासनात्मक कार्यवाही कर दी जायेगी। 

मतगणना का कार्य ईमानदारी और तत्परता से करें: कलेक्टर 

छिन्दवाड़ा। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री भरत यादव की अध्यक्षता में आज को कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में समय सीमा की बैठक संपन्न हुई। बैठक में रिटर्निंग ऑफीसर छिंदवाड़ा विधानसभा उप निर्वाचन एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अनुराग सक्सेना, अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती कविता बाटला, संयुक्त कलेक्टर श्री ओमप्रकाश सनोड़िया, डिप्टी कलेक्टर श्री अजीत र्तिकी और एस.डी.एम.श्री अतुल सिंह सहित सभी विभाग प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री यादव ने निर्देश दिये कि लोकसभा निर्वाचन और विधानसभा उप निर्वाचन में जिन अधिकारियों को मतगणना का दायित्व सौंपा गया है, वे पूरी ईमानदारी और तत्परता से मतगणना का कार्य करें। पूरा अमला तैयार रहे। आगामी 21 मई को प्रात: 8 से 12 बजे तक ट्राई रन के दौरान सभी संबंधित अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे तथा 22 मई को दोपहर 12 बजे से मतगणना की फुल रिहर्सल होगी जिसमें अपने दायित्वों को अच्छी तरह से समझ लें।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री यादव ने निर्देश दिये कि जिन अधिकारियों की मतगणना कार्य में ड्यूटी नहीं लगी है, वे अपने विभागीय कार्यों को प्राथमिकता से पूर्ण करें। पेयजल समस्या का तत्परता से निराकरण करें और जहां जरूरत है वहां पेयजल का परिवहन भी करें। तालाबों का जन सहयोग से गहरीकरण और सौंदर्यीकरण, गाद सफाई का कार्य करें एवं बोरी बंधान, पौधारोपण व अन्य गतिविधियों द्वारा जल संरक्षण के उपाय करें। आपदा प्रबंधन के विभिन्न कार्यों की अभी से तैयारी करें। माननीय उच्च न्यायालय में लंबित प्रकरणों के जवाबदावा प्रस्तुत करें। विशेष सफाई अभियान चलाकर 10 जून तक नाला-नाली की साफ-सफाई कराये जिससे रहवासी क्षेत्रों में पानी नहीं भरें। उन्होंने समय सीमा के अन्य प्रकरणों का समय पर निराकरण करने के निर्देश दिये।