Loading...

भोपाल में CLARK GROUP के नाम पर 80 लाख की धोखाधड़ी | MP NEWS

भोपाल। UP HOTELS LIMITED NEW DELHI से संबद्ध CLARK GROUP OF HOTELS के नाम पर यहां रिसोर्ट कारोबारी के साथ 80 लाख रुपए की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। राजस्थान निवासी अनंत कुमार और उनके पिता अपूर्व कुमार ने खुद को CLARK का मालिक बताया और ग्रेशिव रिसोर्ट के मालिक धीरेश निगम से एक अनुबंध किया। जालसाजी करते हुए आरोपी पिता पुत्र ने धीरेश निगम से 80 लाख रुपए झटक लिए। मामले का खुलासा तो तब हुआ जब असली CLARK GROUP OF HOTELS ने धीरेश को नोटिस भेजा। 

टीआई उपेंद्र भाटी के मुताबिक 51 वर्षीय धीरेश निगम का एमपी जोन-वन स्थित सिटी सेंटर में ग्रेशिव रिसोर्ट नाम से आफिस है। उनका इछावर, सीहोर में 50 कमरों का रिसोर्ट भी है। 23 अक्टूबर 2017 को उनकी मुलाकात राजस्थान निवासी अनंत कुमार और उनके पिता अपूर्व कुमार से हुई थी। उन्होंने बताया कि हरियाणा के गुरुग्राम में उनकी क्लार्क स्काय लार्क के नाम से होटल्स की कंपनी है। पूरे देश में उनके होटल हैं। झांसा देते हुए उन्होंने धीरेश ने कहा कि इछावर में आपका काफी आलीशान रिसोर्ट है। पिता-पुत्र ने निगम से उनकी कंपनी से अनुबंध करने की बात की। उनका कहना था कि वे उन्हें ग्राहक लाकर देंगे, जिसमें वे कमीशन लेंगे। धीरेश को सौदा फायदे का लगा। उन्होंने पिता-पुत्र दोनों से लिखा-पढ़ी कर अनुबंध कर लिया।

विज्ञापन देख HOTEL ग्रुप ने भेजा नोटिस: 

अनुबंध होने के बाद दोनों जालसाजों ने पब्लिसिटी और अन्य अनुबंध के नाम पर निगम से 80 लाख रुपए खर्च करा दिए। आरोपियों ने कारोबारी से करीब 15 लाख रुपए नगद भी लिए। अखबारों में विज्ञापन देखकर लखनऊ के असली क्लार्क ग्रुप आफ होटल्स की और से धीरेश को नोटिस भेजा गया। नोटिस में धीरेश ने पूछा गया कि आप किस आधार पर विज्ञापनों में हमारा नाम छपवा रहे हैं। हमारी कंपनी ने आपसे कोई अनुबंध नहीं किया है। जालसाजी का पता लगते ही करीब एक माह पहले धीरेश ने लिखित में एमपी नगर थाने में शिकायत की। शिकायत की एक माह चली जांच के बाद पुलिस ने आरोपी अनंत कुमार और अपूर्व कुमार के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।