LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




मप्र में इतने मंदिर तो बावर ने नहीं तोड़े थे, जितने शिवराज ने तुड़वा दिए: कम्प्यूटर बाबा | MP NEWS

11 November 2018

रीवा। दिगम्बर अखाड़े से निष्कासित होने के बाद भी कंप्युटर बाबा के शिवराज सरकार पर हमले कम होने का नाम नही ले रहे है। एक बार फिर बाबा ने शिवराज सरकार पर गंभीर आरोप लगाए है। उन्होंने कहा है कि बाबर के जमाने में भी हमारे मध्य प्रदेश के उतने मंदिर नहीं टूटे, जितने मंदिर शिवराज सरकार में टूटे। बाबा के इस बयान के बाद भाजपा में हड़कंप मच गया है। 

शनिवार को कम्प्यूटर बाबा रीवा पहुंचे थे, जहां उन्होंने शिवराज सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए। आरोप लगाते हुए बाबा ने कहा कि कांग्रेस के जमाने में एक भी संत की कुटिया तक नही टूटी, गोमाता दुखी नही हुई, ना ही नर्मदा छलनी। उन्होंने आगे कहा कि बाबर के जमाने में भी हमारे मध्य प्रदेश के उतने मंदिर नहीं टूटे, जितने मंदिर शिवराज सरकार में टूटे। ओंकारेश्वर, चित्रकूट में संतों की सैकड़ों कुटिया तोड़ी गई। सरकार ने वादा किया था कि चुनाव जीतेंगे तो मंदिर बनाएंगे। अब कहते हैं कि देवालय से पहले शौचालय जरूरी है। बाबा यही नही रुके उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री एवं उनके परिवार ने नर्मदा से अवैध उत्खनन किया है। यदि ये फिर से सरकार में आए तो नर्मदा नहीं रहेगी। नर्मदा, संतों, गोमाता का श्राप बीजेपी को लगेगा। 

कम्प्यूटर बाबा का असली नाम नामदेव दास त्यागी है। वह मध्य प्रदेश में संतों की संस्था षट्दर्शन साधु मंडल के प्रमुख हैं। सूबे की शिवराज नीत बीजेपी सरकार ने कम्प्यूटर बाबा समेत पांच धार्मिक नेताओं को अप्रैल में राज्य मंत्री का दर्जा दिया था, लेकिन कम्प्यूटर बाबा ने कुछ दिन पहले यह आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया था कि शिवराज सरकार ने खासकर नर्मदा को स्वच्छ रखने और इस नदी से अवैध रेत खनन पर रोक लगाने के मामले में संत समुदाय से 'वादाखिलाफी' की है। इन दिनों कम्प्यूटर बाबा ने शिवराज सिंह चौहान नीत बीजेपी सरकार पर 'धर्मविरोधी' होने का आरोप लगाते हुए मोर्चा खोल रखा है। 



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->