Loading...

2019 में भाजपा जीते या गठबंधन, पीएम मराठी होगा: दर्डा | NATIONAL NEWS

महाराष्ट्र के वरिष्ठ पत्रकार विजय दर्डा ने पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर बड़ा बयान दिया है। बता दें कि दर्डा वर्ष 1998 से 2016 तक राज्यसभा सदस्य रहे हैं और लोकमत ग्रुप ऑफ न्यूजपेपर्स के चेयरमैन हैं। उन्होंने पत्रकार धर्मेन्द्र सिंह भदौरिया को दिए एक इंटरव्यू में कहा: 

आप इस पर मत जाइए कि मध्य प्रदेश और राजस्थान में क्या हुआ। देश का चित्र यूपी और महाराष्ट्र बदल देंगे। मायावतीजी को मुलायम सिंह से परेशानी थी, एक दूसरे के जानी दुश्मन थे। वो समस्या अखिलेश जी के साथ नहीं है और इसलिए गठबंधन तय है।

मोदीजी के आने के बाद बीजेपी उनके पीछे चली गई, बीजेपी को संभालने वाला आरएसएस भी उनके पीछे चला गया है। आरएसएस का एक ग्रुप मोदीजी में समा गया है। हालांकि जब इंदिरा गांधी और संजय गांधी तक खुद हार गए तो चुनावों में हार-जीत सब संभव है। 

नई पीढ़ी जिसने पहली बार वोट किया उसके साथ विश्वासघात हुआ है, उसका भरोसा टूटा है। युवाओं के दिमाग में सकारात्मकता की जगह नकारात्मकता की ज्यादा चिंता है। लोकतंत्र में तो सरकारें आती-जाती हैं। अच्छा है आना जाना चाहिए सरकारों को। बहता पानी जितना रहेगा अच्छा रहेगा। भाजपा बताने के लिए तो यही कहेगी कि विकास किया, मेक इन इंडिया किया, दुनिया में नाम किया, लेकिन वो सच में हासिल हुए हैं क्या? फिर राम मंदिर, हिंदू-मुस्लिम विवाद को लाएंगे, ध्रुवीकरण करेंगे।

विपक्ष में पीएम पद के लिए दो लोग मुझे नजर आते हैं एक हैं राहुल गांधी और दूसरे हैं शरद पवार। राहुल जी को जल्दी नहीं है, वह सत्ता की चाह रखने वाले व्यक्ति नहीं है। सब लोग मिलकर बोलें तो बात अलग है। अगर वो मना करते हैं तो शरद पवार हैं। जैसा मैंने कहा हमारे पास जो दो मराठी लोग हैं वो बनेंगे। भाजपा की सीटें कम रहती हैं तो नितिन गडकरी।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com