Advertisement

पत्थर मारने वालों का स्वागत करूंगा: शिवराज सिंह | SATNA MP NEWS



सतना। समाज का ओबीसी वर्ग सदियों से प्रदेश व देश की सेवा करता चला आ रहा है। ओबीसी समाज के लोगों के आगे किसी भी प्रकार की समस्या नहीं आने देंगे। यह बात प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को यहां ओबीसी महासम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि पत्थर फेंकने वालों का मैं पुष्पहार से स्वागत करूंगा। बता दें कि इससे पहले पत्थर मामले को गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने शिवराज सिंह की हत्या की साजिश बताया था। खुद शिवराज सिंह ने भी इसे कांग्रेस की साजिश बताते हुए कहा था कि कांग्रेस उनके खून की प्यासी हो गई है लेकिन सीधी के बाद रतलाम में भी ऐसी ही घटना हुई और अब शिवराज सिंह का बयान बदल गया है। 

उन्होंने सीधी में जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान उनके रथ पर फेंके गए पत्थर के मामले में इशारों-इशारों में कहा कि जो पत्थर फेंकने वाले हैं, वह हमारे प्रदेश के वासी है। मैं उन्हें गले लगाने के लिए भी तैयार हूं लेकिन एक दल दिग्भ्रमित कर उन्हें ऐसा करने के लिए उत्तेजित कर रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी 4 वर्षों में प्रदेश गरीबी व गरीब मुक्त हो जाएगा। सबको पक्का मकान, समुचित शिक्षा व्यवस्था ओबीसी छात्रों के लिए रहने के लिए नए छात्रावास का निर्माण कराया जाएगा।

प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज, 6 हुए घायल
मुख्यमंत्री के आने के पहले ही हवाई पट्टी के पास सीएम के मंच से करीब 100 मीटर की दूरी पर पीएचई कार्यालय के पास सपाक्स, सवर्ण और कांग्रेसी कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे थे। इसी दौरान वे बैरीकेड को हटाते हुए सीएम के कार्यक्रम स्थल में घुसने का प्रयास करने लगे। इस पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। जवाब में प्रदर्शनकारियों ने भी पथराव शुरू कर दिया। पुलिस ने भी हल्का पथराव किया। इस पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया। पथराव में कांग्रेस कार्यकर्ता राजेश कुमार व राजभान सिंह घायल हो गए जबकि लाठीचार्ज में 4 लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने 70 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार भी किया है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com