Advertisement

मध्यप्रदेश का पहला 'सहकारी' अस्पताल | MP NEWS



भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में प्रदेश का पहला 'सहकारी' अस्पताल शुरू हो गया है। इसका नाम ‘‘साक्षी सहकारी अस्पताल’’ रखा गया है। यह 10 बिस्तर वाला अस्पताल है जो सरकारी अस्पतालों से थोड़ा बेहतर है। यहां न्यूनतम शुल्क पर इलाज किया जाएगा। दावा किया जा रहा है कि यह अस्पताल ना लाभ ना घाटा के सिद्धांत पर चलाया जाएगा। भारतीय जनता पार्टी सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक नेमीचन्द जैन ने इसे सहकारिता क्षेत्र में अनूठी पहल और उपलब्धि बताया है। 

उन्होंने कहा कि दस बेड वाले ‘‘साक्षी सहकारी अस्पताल’’ से भोपाल की सामान्य जनता को नाम मात्र के शुल्क पर चिकित्सा सुविधाएं मिल सकेगी। साक्षी सहकारी अस्पताल परिसर में ही जैनेरिक दवाईयो का विक्रय केन्द्र भी खोला जा रहा है। जहां रोगियों को सस्ती औषधियां सुलभ होगी। अस्पताल में सभी तरह की जांचों की भी व्यवस्था है जहां अन्य अस्पतालों की तुलना में सस्ती दरों पर जांच की सुविधा उपलब्ध होगी। 

साक्षी सहकारी अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों को सस्ती दरों पर बेड उपलब्ध होगा। साक्षी सहकारी अस्पताल का शुभारंभ 11 अगस्त शनिवार को किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि साक्षी सहकारी अस्पताल देश का सहकारिता के क्षेत्र में छठवां अस्पताल है। आगामी समय में इस तरह की सुविधाएं संभाग स्तर पर और बाद में सहकारी अस्पताल प्रदेश के सभी 56 जिलों में खोले जायेंगे। साक्षी सहकारी अस्पताल प्रदेश में गठित हेल्थ केयर सहकारी समिति मर्यादित का प्रथम पुष्य है। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com