Advertisement

ये BJP विधायक कहीं दिखें तो कृपया डायल 100 को बताएं | MP NEWS



इंदौर। मप्र पुलिस उज्जैन जिले की​ घट्टिया विधानसभा से विधायक एवं भाजपा नेता सतीश मालवीय की तलाश कर रही है। हत्या के प्रयास के एक मामले में न्यायालय की ओर से इनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी है परंतु पुलिस का कहना है कि वो कहीं छुपे हुए हैं। पुलिस को मिल नहीं रहे हैं, न्यायालय ने एक बार फिर वारंट जारी कर दिया है। वारंटियों को पकड़ने में पुलिस की मदद करना आम जनता की नैतिक जिम्मेदारी है। यदि ये कहीं भी आपको नजर आएं तो कृपया डायल 100 को बताएं ताकि पुलिस को इनका पता मिल सके।  

उज्जैन से आ रही खबर के अनुसार कोर्ट ने 10 सितंबर तक का समय दिया है। साथ ही एसपी सचिन अतुलकर को पत्र लेकर इस मामले में विशेष रुचि लेकर विधायक को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करने को कहा है। इससे पहले 25 जुलाई को सीजेएम डीएस परमार ने आदेश दिए थे कि एएसपी स्तर के अफसर द्वारा 6 अगस्त तक मालवीय को गिरफ्तार कर पेश किया जाए, नहीं तो जिम्मेदार अफसर खुद न्यायालय के समक्ष उपस्थित होकर गिरफ्तार नहीं किए जाने के कारणों को स्पष्ट करें। सोमवार को पुलिस ने कोर्ट में प्रतिवेदन देकर कहा कि विधायक की तलाश की गई लेकिन वह नहीं मिले। इस कारण और समय दिया जाए।

किस मामले में है विधायक की तलाश
दरअसल, यह मामला 22 अगस्त 2015 का है, जब कालिदास अकादमी में केंद्रीय मंत्री नरेंद्रसिंह तोमर एक कार्यक्रम में आए थे। यहां विधायक मालवीय अपने समर्थकों के साथ पहुंचे। भाजपा नेता भंवरसिंह चौधरी से उनका विवाद हो गया। आरोप है कि कि विधायक मालवीय ने अपने साथ आए हाकम पटेल से पिस्टल से फायर करने को कहा। अकादमी में भाजपा के अन्य बड़े नेताओं ने दोनों के बीच मामला शांत करा दिया। कुछ देर बाद शहीद पार्क पर दोनों फिर आमने-सामने हो गए। भाजपा नेता चौधरी है कि यहां विधायक मालवीय के कहने पर हाकम सिंह ने पिस्टल से फायर किया। हालांकि उन्हें गोली नहीं लगी। 

इस मामले में माधव नगर पुलिस ने विधायक मालवीय, हाकम पटेल, गणेश पटेल सहित 7 लोगों के खिलाफ धारा 307 के तहत केस दर्ज किया। इसके बाद विवेचना में पुलिस ने विधायक को क्लीन चिट दे दी और बाकी आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश किया। कोर्ट ने खुद संज्ञान लेकर विधायक मालवीय को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करने के आदेश दिए लेकिन पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई। कोर्ट ने चौथी बार वारंट जारी कर पुलिस को 10 सिंतबर तक विधायक को कोर्ट में पेश करने के निर्देश दिए हैं।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com