Loading...

पाकिस्तान के कप्तान ने पीएम मोदी से पूछा: दोस्ती करोगे ? | WORLD NEWS

नई दिल्ली। पाकिस्तान चुनाव के नतीजे में सबसे बड़ी पार्टी बनने के बाद पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान ने आज कहा कि वह देश के लिए किए गए सारे वादे निभाएंगे। उन्होंने इस चुनाव को ऐतिहासिक करार दिया। उन्होंने कहा कि मैं बॉलीवुड विलेन नहीं जैसा भारतीय मीडिया ने दिखाया। मैं भारत से अच्छे रिश्ते चाहता हूं। पीटीआई अध्यक्ष ने आगे बताया कि कश्मीर मुद्दा काफी समय से चल रहा है। हमें कश्मीर मसला बैठकर सुलझाना होगा। अगर भारत का नेतृत्व तैयार है तो फिर हम बातचीत के जरिए इस मुद्दे को हल कर सकते हैं। यह उपमहाद्वीप के लिए भी अच्छा होगा। 

इमरान खान ने अपने संबोधन में कहा कि पहले हुकमरान अपने आप पर खर्च करते थे। आज से ये नहीं होगा। हम सादगी से रहेंगे, इतने बड़े प्रधानमंत्री घर में नहीं, छोटी सी जगह देखेंगे कोई। मैं अवाम के लिए टैक्स की हिफाजत करूंगा। उन्होंने आगे कहा कि मैं उन पाकिस्तानियों में से एक हूं तो भारत के साथ अच्छे रिश्ते चाहता है। अगर हम गरीबी मुक्त उपमहाद्वीप चाहते हैं तो रिश्तों को बेहतर करना होगा।

इमरान खान ने कहा कि 22 साल की मेहनत रंग लाई है। पाकिस्तान की जनता ने अब सेवा का मौका दिया है। इस चुनाव में लोगों ने कुर्बानियां दी है। जिसे बेकार नहीं जाने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मेरी पार्टी आतंकी हमलों से भी नहीं डरी। इंसानियत का पाकिस्तान बनाना चाहता हुं। इंसानियत का राज कायम करना चाहता हूं। कमजोरों को ऊपर उठाने का काम करूंगा।

पीटीआई के अध्यक्ष ने कहा कि 45 प्रतिशत बच्चों का विकास ठीक से नहीं हुआ। ढाई करोड़ बच्चे स्कूल से बाहर हैं। बच्चों की शिक्षा और स्वास्थ्य पर काम करूंगा। उन्होंने आगे कहा कि मैं चाहता हूं सारा पाकिस्तान एक हो। किसानों को उनकी मेहनत का पैसा नहीं मिलता। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com