Loading...

मुख्यमंत्री के क्षेत्र में शिक्षकों का हल्ला बोल, होशंगाबाद से बुदनी तक पैदल मार्च | MP EMPLOYEE NEWS

सीहोर/होशंगाबाद। मुख्यमंत्री द्वारा उनके ही विधानसभा क्षेत्र नसरुल्लागंज में लगभग 7 माह पूर्व की गई पदनाम की घोषणा पर अमल न होने से नाराज हजारों शिक्षकों ने कल रविवार को होशंगाबाद से बुदनी तक पैदल मार्च निकाल अपना आक्रोश जताया। इस दौरान होशंगावाद-बुदनी बायपास पर लगभग 5 किलोमीटर तक जाम रहा, इससे पुलिस प्रशासन को साढ़े तीनघंटे अच्छी खासी मशक्कत करना पड़ी, रैली में महिला शिक्षकों अच्छी खासी संख्या देखने को मिली, बुदनी पहुचें लगभग साढ़े ग्यारह हजार शिक्षको ने "मुख्यमंत्रीजी वादा निभाओ" के जमकर नारे लगाये। उल्लेखित आयोजन समग्र शिक्षक संघ के आह्वान पर किया गया, 15 किलोमीटर का पैदल मार्च बुदनी विवेकानन्द बस स्टेंड परिसर पहुचकर आम सभा में परिवर्तित हो गया! 

शिक्षकों को मनाने पहुचे जनप्रतिनिधि और प्रशासन के आला अधिकारी
बुधनी में अचानक पहुचे शिक्षकों के इतने बड़े संख्याबल ने प्रशासन को सकते में ला दिया, क़ानून व्यवस्था के मद्देनजर प्रशासन ने अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर दिया, सभा स्थल पर मुख्यमंत्री के नजदीकी माने जानेवाले राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त वन विकास निगम अध्यक्ष गुरूप्रसाद शर्मा, मुख्यमंत्री प्रतिनधि रवि मालवीय और भारतीय जनता पार्टी के पूर्व बुदनी विधायक एवं वेयर कार्पोरेशन अध्यक्ष राजेंद्रसिंह राजपूत ने पहुँचकर शिक्षको को काफी समझाने का प्रयास किया।

शिवराज सिंह ने फिर दिया आश्वासन
अन्तत: श्री गुरुप्रसाद शर्मा ने मुख्यमत्री से दूरभाष पर हुई चर्चा का सन्देश पढ़कर  सुनाया जिसमे उन्होंने मुख्यमंत्री की ओर से शिक्षा और जनजातीय विभाग के शिक्षकों के पदनाम परिवर्तन के आदेश एक सप्ताह में जारी करवाने का भरोसा दिलाया तथा शिक्षकों से आन्दोलन स्थगित करने का आग्रह किया, तब शिक्षक माने।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com