Loading...

तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ का दावा: डेढ़ लाख कर्मचारी हड़ताल पर, सरकारी दफ्तर सूने | MP EMPLOYEE NEWS

भोपाल। मध्‍यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के आव्‍हान पर आज तृतीय वर्ग के लगभग ढेड लाख से ज्‍यादा कर्मचारियों ने सामूहिक अवकाश लेकर हड्ताल की। सामूहिक अवकाश आंदोलन में राजधानी सहित जिला ब्‍लाक तहसील कार्यालयों के कर्मचारियों ने हिस्‍सा लिया। राजधानी में सतपुडा विंध्‍याचल डीपीआइ आरटीओ, निर्माण भवन, हथकरघा संचालनालय, मत्‍सय संचालनालय नर्बदा भवन के कर्मचारियों सहित 4000 से अ‍धिक कर्मचारियों ने सामूहिक अवकाश लिया। कर्मचारियों के अवकाश पर रहने के कारण कार्यालयों में सन्‍नाटा पसरा रहा तथा काम के लिये आनेवाले लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। 

त़ृतीय वर्ग कर्मचारी संघ ने लिपिक वर्गीय कर्मचारियों सहित अन्‍य कर्मचारियों की मांगों की ओर शासन का ध्‍यान आकर्षित करने के लिये 27 एवं 28 जुलाई को प्रांत व्‍यापी हडताल पर जाने का निर्णय लिया है। सामूहिक अवकाश आंदोलन का आज प्रथम दिवस था। उक्‍त आशय की जानकारी संघ संघ के प्रांत अध्‍यक्ष ओ.पी. कटियार एवं  लिपिक वर्गीय कर्मचारी समिति के प्रांतीय संयोजक विजय रघुवंशी ने दी।

राजधानी भोपाल में सभी कर्मचारी सतपुडा भवन के सामने एकत्र हुए तथा जमकर नारेबाजी की। सतपुडा भवन पर कर्मचारियों की सभा का आयोजन किया गया जिसे संघ के प्रांत अध्‍यक्ष ओ.पी. कटियार, अशोक चतुर्वेदी, लक्ष्‍मीनारायण शर्मा, राजेश तिवारी,एस.एस. रजक, उमाशंकर तिवारी, ताहिर अली, एम.एल. मिश्रा, राकेश खरे, रमेश चिढार, मोहन शर्मा, आर.के. कटियार आदि ने सम्‍बोधित किया।

प्रमुख मांगे
लिपिक वर्गीय कर्मचारियों के लिये गठित रमेशचन्‍द्र शर्मा समिति की 23 अनुसंशाओं को लागू किया जायें, सातवें वेतनमान के अनुरूप भत्‍ते दिये जायें, शिक्षकों को पदोन्‍नत पदनाम दिया जायें,ई अटेंडेंस प्रथा समाप्‍त की जायें,संविदा कर्मचारियों को नियमित किया जायें,पुरानी पेंशन प्रणाली लागू की जायें,आउट र्सोसिंग प्रथा बंद की जायें।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com