बोनी कपूर मीडिया ट्रायल से क्यों डरते हैं | SRIDEVI DEATH MYSTERY

Tuesday, March 6, 2018

मुंबई। श्रीदेवी की मौत के रहस्य के बारे में उनके फेंस जानना चाहते हैं। वो कोई फिल्म नहीं थी जिसे सेंसर करके दिखाया जा सके। एक लोकप्रिय इंसान की मौत के रहस्यों का खुलासा तो होना ही चाहिए। फिल्म क्रिटिक कोमल नाहटा ने बोनी कपूर के हवाले से जो कहानी पेश की है, वो अधूरी भी लगती है और भरोसे के लायक भी नहीं। सवाल यह है कि बोनी कपूर इस मामले में घबरा क्यों रहे हैं। एक बार खुलकर मीडिया के सामने उनके सवालों के जवाब देने उपस्थित क्यों नहीं हो जाते। यदि श्रीदेवी का बोनी की जिंदगी में महत्व है, तो उन्हे श्रीदेवी की मौत पर उठ रहे सवालों का जवाब देना चाहिए। 

क्या था घटनाक्रम
5 फरवरी को जब श्रीदेवी की मौत की खबर आई थी, तब कहा गया था कि मौत कॉर्डिएक अरेस्ट से हुई। इसके बाद सोमवार फोरेंसिक रिपोर्ट में मौत की वजह 'एक्सीडेंटल ड्राउनिंग' यानी 'दुर्घटनावश डूबना' बताया गया। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि श्रीदेवी के खून में अल्कोहल के अंश भी मिले। इसके बाद अनुमान लगाया गया कि शराब के नशे में श्रीदेवी अपना संतुलन खोकर बाथटब में गिर गईं। इसके बाद डूबने से उनकी मौत हो गई। खलीज टाइम्स ने रविवार रात को भी अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि श्रीदेवी की बॉडी पानी से भरे टब में पाई गई। फोरेंसिक रिपोर्ट सामने आने के बाद पुलिस ने यह मामला आगे की कार्रवाई के लिए पब्लिक प्रॉस्क्यूटर को सौंप दिया। इसके बात सरकारी वकील ने 22 घंटे की कानूनी औपचारिकाएं पूरी करने के बाद मंगलवार करीब ढाई बजे श्रीदेवी की बॉडी को ले जाने की इजाजत दी।

कब हुई थी मौत?
श्रीदेवी की मौत शनिवार रात करीब 11.30 बजे जुमैरा एमिरेट्स टॉवर होटल के अपने रूम नंबर 2201 में हुई थी। श्रीदेवी अपने पति बोनी कपूर और छोटी बेटी खुशी के साथ भांजे मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने दुबई गई थीं। शादी 20 तारीख की थी। परिवार के सभी लोग शादी के बाद भारत वापस लौट आए थे। केवल श्रीदेवी दुबई में रह गईं थीं। बताया गया कि वो अपनी बेटी जाह्नवी के लिए शॉपिंग करने रुक गईं थीं। मौत से कुछ देर पहले बोनी कपूर अचानक भारत से दुबई पहुंचे। बोनी का कहना है कि वो श्रीदेवी को सरप्राइज डिनर पर ले जाना चाहते थे। 

पहले ये बताई गई थी उस रात की कहानी
परिवार के एक करीबी के हवाले से खलीज टाइम्स ने बताया था कि बोनी कपूर शादी में शामिल होकर मुंबई लौट गए थे। 24 फरवरी को दोबारा दुबई लौटे और वे शाम करीब 5.30 बजे जुमैरा एमिरेट्स टॉवर होटल गए। यहां ही श्रीदेवी रुकी हुई थीं। बोनी श्रीदेवी को सरप्राइज डिनर पर ले जाने वाले थे। बोनी ने श्रीदेवी को जगाया और दोनों ने करीब 15 मिनट बात की। इसके बाद श्रीदेवी वॉशरूम गईं। जब वे 15 मिनट तक नहीं लौटीं तो बोनी ने बाथरूम का दरवाजा खटखटाया। अंदर से कोई रिस्पॉन्स न मिलने पर उन्होंने धक्का देकर दरवाजा खोला। बोनी ने देखा कि श्रीदेवी अचेत हालत में बाथटब में गिरी हुई थीं। बोनी ने उन्हें होश में लाने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहे। इसके बाद उन्होंने अपने दोस्त को फोन किया। उन्होंने करीब 9 बजे पुलिस को जानकारी दी। बाथरूम में बेहोश होकर गिरने के बाद उन्हें दुबई के रशीद हॉस्पिटल ले लाया गया। जब श्रीदेवी को इलाज के लिए हॉस्पिटल ले लाया गया, उससे पहले ही उनका निधन हो चुका था।

कोमल नाहटा ने यह कहानी बताई
बोनी ने कहा कि 24 की सुबह श्रीदेवी ने बोनी कपूर को कॉल करके कहा, 'पापा (इस नाम से श्रीदेवी, बोनी को कहा करती थीं) मैं तुम्हें मिस कर रही हूं। मैंने भी कहा कि मैं तुम्हें मिस कर रहा हूं। लेकिन मैंने उसे ये नहीं बताया कि मैं उसे दुबई में मिलने आ रहा हूं। बोनी फिर 24 फरवरी की शाम 6.20 पर दुबई पहुंचे। बोनी कपूर ने अपना बैग बाद में पहुंचाने को कहा क्योंकि वो पहले श्रीदेवी को सरप्राइज देना चाहते थे। उसके बाद बोनी कपूर ने डुप्लीकेट चाबियों से गेट खोला और श्रीदेवी को देखते ही उन्हें गले लगाया लेकिन श्रीदेवी ने बोनी कपूर को कहा कि उन्हें लग रहा था कि वो उनसे मिलने वापस दुबई आएंगे। दोनों फिर गले मिले, एक दूसरे को किस किया और आधे घंटे तक दोनों ने बात की। कुछ देर मिलने के बाद बोनी कपूर फ्रेश हुए और दोनों ने एक रोमांटिक डिनर का प्लान किया। उसके बाद श्रीदेवी नहाने के लिए चली गईं।

नाहटा ने आगे लिखा- 'बोनी फिर लिविंग रूम में चले गए थे और श्रीदेवी तैयार होने के लिए मास्टर बाथरूम चली गईं। उसके बाद बोनी कपूर जो टीवी देख रहे थे, उन्हें लगा कि वो डिनर के लिए लेट हो रहे हैं। उन्होंने श्रीदेवी को बहुत बार आवाज दी, लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। बोनी बहुत घबरा गए थे और उन्होंने गेट खोला और वो पूरी तरह से शॉक में थे। वो घबराए हुए थे, लेकिन वो श्रीदेवी की ऐसी हालत देखने के लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं थे। टब पानी से पूरा भरा हुआ था और श्रीदेवी उसमे सर से लेकर पैर तक पूरी डूबी हुई थीं। बोनी, श्रीदेवी के पास पहुंचे तो, लेकिन वो बहुत घबरा गए थे।

इन सवालों के जवाब अब भी नहीं मिले
जब फॉरेसिंक रिपोर्ट आई तब शरीर पर चोट के निशान के बारे में कोई बात नहीं की गई। तो ऐसा क्या हुआ कि डेढ़ फीट गहरे बाथटब में गिरकर श्रीदेवी एक बार संभल भी न सकीं? 
फॉरेंसिक रिपोर्ट की जो कॉपी सामने आई है उसमें दुर्घटनावश डूबना लिखा है। यह कैसे पता चला कि दुर्घटना से डूबी हैं? डुबोया भी तो जा सकता है?
बोनी कपूर सरप्राइज के लिए दुबई क्यों गए। जबकि वो ऐसा अक्सर नहीं करते थे। 
बोनी कपूर ने डुप्लीकेट चाबी से दरवाजा खोला। 
दोनों के बीच आधे घंट बात हुई या बहस हुई। 
बताया था कि श्रीदेवी शॉपिंग करने दुबई रुक गईं थीं फिर होटल रूम से शॉपिंग का सामान क्यों नहीं मिला। 
बड़ा सवाल यह भी है कि क्या श्रीदेवी की वापसी का रिजर्वेशन कराया गया था। 
श्रीदेवी की छोटी बेटी खुशी को उनके साथ दुबई में रुकने क्यों नहीं दिया गया जबकि मामला जाह्नवी के लिए शॉपिंग का था।
यदि अर्जुन कपूर बयान ना देते तो मौत का कारण हार्टअटैक ही रहता ? 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah